छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ढूंढ रहे हैं बेटी के लिए योग्य वर, होनी चाहिए ये खूबी

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल हाल ही में एक सार्वजनिक कार्यक्रम में पहुंचे। यहां पर उन्होंने घोषणा करते हुए कहा कि, वह अपनी बेटी के लिए योग्य दूल्हे की तलाश में है। उन्होंने जनता के सामने अपना इरादा बताते हुए अपनी मुंह बोली बेटी और कांग्रेस की टिकट पर कसडोल से विधायक शकुंतला साहू के लिए अच्छे दूल्हे की तलाश करने को लेकर बातें की। जनता ने उनकी बातें सुनकर काफी प्रसन्नता जाहिर की।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ढूंढ रहे हैं बेटी के लिए योग्य वर, होनी चाहिए ये खूबी

बीते रविवार को छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल महासमुंद में साहू समाज के द्वारा आयोजित किए गए युवक युवती परिचय सम्मेलन में हाई स्कूल मैदान पर शामिल हुए थे। यहां पर उन्होंने जनता को संबोधित किया और साथ ही मजाकिया अंदाज में विधायक शकुंतला साहू जो कि उनकी मुंह बोली बेटी है, उनके लिए वर को ढूंढने की भी घोषणा की।

संभाग स्तरीय साहू समाज के युवक-युवती परिचय सम्मेलन, व पत्रिका के विमोचन और अलंकरण समारोह में शामिल हुए मुख्यमंत्री बघेल ने इस दौरान तीन साहू समाज के नोनी बाबू परिचय पुस्तक व सिरपुर ऐतिहासिक धरोहर एवं हमर पुलिस हमर पुस्तकों का विमोचन किया। इसी दौरान जब एक युवक और एक युवती ने उन्हें अपना परिचय दिया, तो सीएम ने अपनी मुंहबोली बेटी कसडोल से विधायक शकुंतला साहू को लेकर भी बातें की।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ढूंढ रहे हैं बेटी के लिए योग्य वर, होनी चाहिए ये खूबी

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बेटी की उम्र और लंबाई का जिक्र करते हुए कहा कि, ” मेरी बेटी पहले जिला पंचायत की सदस्य थी। अभी वर्तमान समय में वह कसडोल के विधायक पद पर है”। जब मुख्यमंत्री ने अपनी बेटी की शादी के बारे में बात की तो जनता ने गोत्र के बारे में पूछा। इस बात को लेकर विधायक की ओर देखते हुए उन्होंने माइक के सामने आकर अपने माता-पिता सहित गोत्र के बारे में पूरी जानकारी दी। जनता को उनकी बातें सुनकर बहुत प्रसन्नता हुई और पूरा मंच तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ढूंढ रहे हैं बेटी के लिए योग्य वर, होनी चाहिए ये खूबी

इसी दौरान मुख्यमंत्री ने तेलघानी बोर्ड बनाने को लेकर कई बातें कहीं। उन्होंने कहा कि, इस बोर्ड से ग्राम उद्योग को बढ़ावा मिलेगा और जो भी इस कार्य से जुड़े होंगे उन्हें एक नई पहचान और रोजगार भी मिलेंगे। समाज साहू की मांग पूरी करते हुए उन्होंने रायपुर संभाग के पांचों जिलों में सामाजिक भवन को 20-20 लाख रूपये देने की भी ऐलान किया।

Urvashi Srivastava

मेरा नाम उर्वशी श्रीवास्तव है. मैं हिंद नाउ वेबसाइट पर कंटेंट राइटर के तौर पर...