खुशखबरी: देश में बन गई कोरोना की दवा, कीमत मात्र 35 रुपए

कोरोनावायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। लोग बस कोरोना की दवा को ढूंढने के पीछे लगे हुए हैं। दुनिया की बड़ी-बड़ी कंपनियां कोरोना की दवा और वैक्सीन विकसित करने में लगी हुईं हुई। इसी बीच अब भारतीय फार्मास्यूटिकल्स कंपनी ने देश में कोरोना की पहली दवा लॉन्च कर दी जो कि एक बड़ी खबर है, और अगर ये कारगर है तो ये कोरोनावायरस के अंत की ओर एक बड़ा कदम हो सकता है।

कौन सी है दवा

खुशखबरी: देश में बन गई कोरोना की दवा, कीमत मात्र 35 रुपए

दरअसल भारतीय दवा निर्माता कंपनी सन फार्मास्युटिकल्स ने कोरोनावायरस के निम्न और मध्यम स्तर के मरीजों के लिए कोरोना की दवा लॉन्च कर दी है, जो उस स्थिति में शरीर से कोरोनावायरस को पूरी तरह खत्म कर देती है। खबरों के मुताबिक ये एक जेनेरिक दवा है जो फेवीपिराविर से बनी है। कंपनी ने इस कोरोनावायरस की मत मात्र 35 रुपए रखी है। इसे फ्लूगार्ड के तौर पर लांच किया जाएगा।

खबरों के मुताबिक फेवीपिराविर के क्लीनिकल ट्रायल पूरी तरह सफल और किसी नकारात्मक प्रभावों से परे रहे हैं, जिसके चलते इसके प्रयोग को निम्न और मध्यम स्तर के कोरोनावायरस के मरीजों के लिए कोरोना की दवा के रूप में किया जा सकता है।

रूस बतएगा इसके नए बदलाव

गौरतलब है कि फेवीपिराविर एक तरह का ड्रग है जो कि साधारण भाषा में फेवीपिराविर के नाम से जाना जाता है। इसका उत्पादन 1990 में जापान में एक कंपनी ने बनाया था। जल्दी इसके मॉडिफिकेशन की जानकारी रूस द्वारा साझा की जाएगी और बताया जाएगा कि दवा में क्या-क्या बदलाव किए गए हैं।

सिप्ला भी करेगी लॉन्च

खबरों के मुताबिक भारतीय बाजार में जल्दी सिप्ला भी कोरोना की दवा लॉन्च करने वाली है। सीएसआईआर यानी काउंसिल ऑफ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रियल रिसर्च ने इस दवा को कम कीमत को ध्यान रखते हुए बनाया है। साथ ही सिप्ला की इस दवा को डीजीसीआई से इस दवा को लॉन्च करने की मंजूरी दे दी है।

खुशखबरी: देश में बन गई कोरोना की दवा, कीमत मात्र 35 रुपए

वहीं दवा कंपनी हीटरो लैब्स ने भी भारत में फेवीपिराविर दवा का नाम फेविविर रखते हुए कोरोना की दवा के रूप में गोलियां लॉन्च की हैं जिनकी कीम करीब 59 रुपए रखी गई है।

भारत में खतरनाक कोरोनावायरस

आपको बता दें कि भारत में कोरोनावायरस के मामले बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं देश में कोरोनावायरस की संख्या लगभग 19 लाख हो गई है वहीं 40000 से ज्यादा लोग अपनी जान गवा चुके हैं। ऐसे में अगर कोरोना की ये दवा लांच होती है, तो यह देश में कोरोनावायरस के खिलाफ एक बड़ा हथियार बन सकती हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.