टिक टॉक ने भारत में वापसी के लिए जारी किया स्पष्टीकरण, क्या वापस आने की है उम्मीद??

इस साल जून के महीने में भारत चीन सीमा पर तनातनी और झड़प के बाद हमारे भारत के कई जवान शहीद हो गए थे. भारतीय जवानों के शहीद होने पर दोनों देशों के बीच में हालात काफी बिगड़ गए थे. इसके बाद कई कार्यवाही भी हुई थी. हम आपको बता दें कि, भारत में टिक टॉक पहले से ही डाटा सिक्योरिटी और प्राइवेसी के मुद्दे पर घिरा हुआ था, इसके बाद भारत-चीन सीमा विवाद होने पर टिक टॉक को बैन ही कर दिया गया था. जहां टिक टॉक बंद हो जाने के बाद टिक टॉक के करोड़ों यूजर्स को झटका लगा, वहीं टिक टॉक इंडिया के कई अधिकारी लगातार इस प्रयास में है कि, भारत में फिर से टिक टॉक स्थापित कर दिया जाए.

टिक टॉक ने भारत में वापसी के लिए जारी किया स्पष्टीकरण, क्या वापस आने की है उम्मीद??

टिक टॉक को वापस आने की उम्मीद

टिक टॉक इंडिया के प्रमुख निखिल गांधी ने अपने कर्मचारियों को लेटर लिखकर उनका हौसला बढ़ाने की भी कोशिश की है. उन्होंने उम्मीद जताते हुए कहा कि, ” हो सकता है कि भारत में टिक टॉक के पक्ष में सकारात्मक माहौल बने, और करोड़ों यूजर्स फिर से इसका इस्तेमाल कर सकेंगे”. उन्होंने कहा कि, ”टिक टॉक भारतीय नियम और कानूनों का पालन करने की शर्त पर काम करने के लिए तैयार होगा, तो प्राइवेसी और सिक्योरिटी का भी खास ख्याल रखा जाएगा”.

टिकटोक यूजर्स के लिए लांच किए गए थे अन्य एप

हम आपको बता दें कि, जून के महीने में टिक टॉक प्रतिबंधित हो जाने के बाद टिक टॉक यूजर्स को काफी झटका लगा था. वीडियो मेकिंग और फन का सिलसिला रुक जाने पर यूजर काफी परेशान हो गए थे. यूजर्स के मनोरंजन को ध्यान में रखते हुए टकाटक के अलावा कई अन्य धांसू ऐप आए थे. जिससे यूजर्स को अच्छे प्लेटफार्म मिल सके और वह शार्ट वीडियो बना सके. इन एप्स के बाद यूजर्स का मनोरंजन फिर से शुरू हो चुका है. ऐसा मानना है कि, यूजर्स के मनोरंजन में कोई भी रुकावट नहीं आनी चाहिए.

 

टिक टॉक ने भारत में वापसी के लिए जारी किया स्पष्टीकरण, क्या वापस आने की है उम्मीद??

टिक टॉक इंडिया ने टिक टॉक शुरू करवाने के लिए जारी किया स्पष्टीकरण

हम आपको बता दें कि, हाल ही में टिक टॉक इंडिया ने अपना ऑपरेशन फिर से शुरू करवाने के लिए स्पष्टीकरण जारी किया और साथ ही सरकार को आश्वासन भी दिया है, कि आने वाले भविष्य में सरकार के साथ सहयोग करने के लिए हम पूरी तरह से तैयार है. टिक टॉक को उम्मीद है कि, हम फिर से इंडिया में ऑपरेशन शुरू कर सकते हैं, लेकिन यह चीज उतना आसान दिखाई नहीं दे रहा है जितना कि समझा जा रहा है.

टिक टॉक ने भारत में वापसी के लिए जारी किया स्पष्टीकरण, क्या वापस आने की है उम्मीद??

 

टिक टॉक पब्जी समेत अन्य चाइनीज ऐप पर लग गया है बैन

सिर्फ टिक टॉक ही नहीं बल्कि सरकार ने बीते 29 जून को अन्य 59 चाइनीस ऐप पर भी बैन लगा दिया था. इस फैसले के पीछे प्राइवेसी और डाटा सिक्योरिटी का हवाला दिया गया था. इसके अलावा पब्जी समेत अन्य ऐप्स को भी बंद कर दिया गया है. भारत में टिक टॉक को यूज करने वाले लगभग 10 करोड़ से ज्यादा यूजर्स थे.

बता दें, कुछ समय पहले पाकिस्तान में भी टिक टॉक को बैन कर दिया गया था. पाकिस्तान का मानना था कि, यह ऐप अश्लीलता फैलाता है और माहौल को खराब करता है. हालांकि 10 दिन बीत जाने के बाद पाकिस्तान ने टिक टॉक पर से अपना प्रतिबंध हटा दिया था.

Urvashi Srivastava

मेरा नाम उर्वशी श्रीवास्तव है. मैं हिंद नाउ वेबसाइट पर कंटेंट राइटर के तौर पर...