लद्दाख के आसमानों मे लड़ाकू विमान ने भरी उड़ान, डरा चीन

भारतीय वायु सेना की नई ताकत राफेल के लड़ाकू विमानों ने लद्दाख के खुले आसमानों में उड़ान भरना शुरू कर दिया है। ऐसा करके राफेल लड़ाकू विमानों ने लद्दाख के आसमान से नीचे के हालातों का ब्यौरा लिया है। हालाकि भारत और चीन के बीच तनाव जारी हैं।

मैदान में उतरे लड़ाकू विमान

रविवार शाम को वायु सेना ने लद्दाख में अपने राफेल लड़ाकू विमानों को मैजान में उतार दिया है।ऐसा इसलिए किया गया, जिससे तनाव वाले क्षेत्रों की पहचान की जा सके।

मिराज 2000 फाइटर जेट्स, मिग-29 ने भी भरी उड़ान

लद्दाख के आसमानों मे लड़ाकू विमान ने भरी उड़ान, डरा चीन

केवल लड़ाकू विमानों ने ही नहीं उड़ान मिराज 2000 फाइटर जेट्स, मिग-29 ने भी अपनी उड़ान ली।औपचारिक रूप से वायुसेना में शामिल होने के दस दिन के भीतर ही राफेल लड़ाकू विमान सीमा पर दुश्मनों संभलने के लिए  चेताने लगा है। आपको बता दें कि राफेल विमान दस सितंबर को वायुसेना में शामिल हुआ था। वायुसेना की ओर से लद्दाख सीमा पर सुखोई 30MKI, जगुआर, मिराज 2000, मिग-29 और अब राफेल लड़ाकू विमान को तैनात किया गया है,जो लगातार उड़ान भरकर चीन पर नजर बनाए हुए हैं, वायुसेना यहां दिन के अलावा रात में भी उड़ान भरकर चीन पर नजर रखती आई है ।

इनके अलावा अपाचे हेलिकॉप्टर और चिनूक हेलिकॉप्टर भी सामान पहुंचाने और अन्य सैन्य मदद पहुंचाने का काम लगातार कर रहे हैं । आपको बता दें कि चीन की ओर से सीमा पर हर रोज नए हथकंडे अपनाए जा रहे हैं, ऐसे में भारत पूरी तरह से सतर्क है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दिया बयान

लद्दाख के आसमानों मे लड़ाकू विमान ने भरी उड़ान, डरा चीन

बीते दिनों संसद में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बयान दिया था कि भारत बातचीत से मसले को सुलझाना चाहता है, लेकिन भारतीय सेना किसी भी परिस्थिति के लिए तैयार है और LAC में कोई भी बदलाव नहीं होने देगी. बता दें कि पिछले बीस दिनों में भारत ने लद्दाख सीमा की करीब आधा दर्जन से अधिक पहाड़ियों पर कब्जा कर लिया है ।

Shukla Divyanka

मेरा नाम दिव्यांका शुक्ला है। मैं hindnow वेब साइट पर कंटेट राइटर के पद पर कार्यरत...

Leave a comment

Your email address will not be published.