प्रणब मुखर्जी की मौत की खबर झूठी, वेंटीलेटर सपोर्ट पर हैं
/

सोशल मीडिया पर उड़ा प्रणब मुखर्जी की मौत का अफवाह, जाने क्या है उनकी लेटेस्ट अपडेट

पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्खी की हालात नाजुक बनी हुई है। जिसके चलते उनको वेंटीलेटर पर रखा गाय है।

देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के कोरोना से संक्रमित होने के बाद हालात में कोई सुधार नहीं हो पा रहा है। सोमवार को 84 साल के पूर्व राष्ट्रपति कोविड-19 की जांच करने पर पॉजिटिव मले। अब उनको वेंटीलेटर स्पोर्ट पर रखा गया है। आर्मी रिसर्च और रेफरल अस्पताल की ओर से कहा गया है कि- आज सुबह तक प्रणब मुखर्जी की हालात में कोई तबियत कोई सुधार नहीं आया है। फिलहाल, प्रणब मुखर्जी को वेंटीलेटर पर रखा गया है।

अभिजीत मुखर्जी ने शुभचिंतकों का शुक्रिया अदा किया

पूर्व राष्ट्रपति के बेटे अभिजीत मुखर्जी और शर्मिष्ठा मुखर्जी ने उनको मौत की खबर को सिरे खारिज कर दिया है। कल शाम अभिजित मुखर्जी ने ट्वीट किया था कि- सर्जरी के बाद उनकी तबियत स्थिर है। सभी की दुआएं और मेरे पिता की हालात स्थिर है। मैं सभी से निवेदन करता हूं कि लगाातर उनके लिए प्रार्थना और जल्द ठीक होने की कामना करें। धन्यवाद

 

प्रणब मुखर्जी को वेंटीलेटर पर रखा गया

हॉस्पिटल में एडमिट होने से पहले पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने ट्वीट कर जानकारी साझा की थी कि- मैं रूटीन चेकअप के लिए अस्पताल गया था। मैं कोरोना पॉजिटिव हूं. मैं सभी लोगों से निवेदन करता हूं कि जो लोग पिछले हफ्ते मेरे संपर्क में आएं हैं। वो सभी अपने आप को आइसोलट करने के बाद कोविड-19 की जांच कराएं। राष्ट्रपित राम नाथ गोंविद और वैकेंया नायडू ने उनके परिवार वाले से बातचीत की। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सोमवार को अस्पताल गए थे।

शर्मिष्ठा मुखर्जी ने शेयर किया इमोशनल भरा पोस्ट

कल पूर्व राष्ट्रपति की बेटी ने दर्द भरा पोस्ट लिखा कि- उन्होंने भगवान से प्रार्थना की। पिछले साल उन्हें 8 अगस्त को भारत रत्न सम्मान से नवाजा गया था। वो मेरे लिए सबसे खुशी का दिन था। पिछले साल भी बिल्कुल 10 अगस्त 2019 को वह बिमार हो गए थे। भगवान उनके लिए अच्छा करेगा। और हमें मजबूती दें। मैं शुभचिंतकों शुक्रिया अदा करती हूं।

पूर्व राष्ट्रपित के रिश्तदारों की ओर से बिरभूम जिले में उनके लिए तीन दिनों मृत्युंजय यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है। उनके लिए वेस्ट बंगाल के गांव में दुआएँ की जा रही है।