कोई अपनी माँ या बहन के साथ ऐसा करता है क्या? जब सौतेली माँ ने लगाए चिराग पर ये आरोप

रामविलास पासवान ने अपने जीवन में दो शादियां की थी। इनकी पहली पत्नी का नाम राजकुमारी देवी है। उनके जाने के बाद उनका राजनीतिक उत्तराधिकारी, उनकी दूसरी पत्नी के बेटे चिराग पासवान को मिल चुका है। चिराग पासवान अपने घर के  अकेले बेटे है। वहीं विधानसभा चुनावों को लेकर लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान अपने तीखे तेवरों के लेकर इन दिनों खासा चर्चा में बने हुए हैं। बतचा दे वह बिहार में एनडीए से अलग होकर चुनाव लड़ रहे हैं। चिराग पासवान ने अकेले विधानसभा चुनाव लड़ने का मन बनाया है। आज हम आपकों चिराग की सौतेली मां से उनके रिश्ते कैसे थे इसके बारे में बताएंगे।

पैतृक गांव से नहीं है लेना देना

कोई अपनी माँ या बहन के साथ ऐसा करता है क्या? जब सौतेली माँ ने लगाए चिराग पर ये आरोप

राम विलास पासवान की पहली पत्नी राजकुमारी देवी मीडिया की लाइमलाइट से दूर रहना ही पसंद करती हैं। इन दिनों वह खगड़िया जिला के शहरबन्नी स्थित राम विलास के पैतृक घर में ही रहती हैं। हाल ही में एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि चिराग पासवान के साथ उनके संबंध कैसे हैं। इस दौरान राजकुमारी देवी ने बताया था कि चिराग अपने पैतृक गांव कभी नहीं आते हैं। वह गांव आखिरी बार अपने दादा के मरने पर आए थे उसी दौरान उनकी उनसे बात हुई थी।

चिराग पर है पूरी जिम्मेदारी

कोई अपनी माँ या बहन के साथ ऐसा करता है क्या? जब सौतेली माँ ने लगाए चिराग पर ये आरोप

रामविलास पासवान की पहली पत्नी राजकुमारी देवी ने ये भी बताया कि हां कभी-कभार पटना में चिराग पासवान से मुलाकात हो जाया करती थी। जब वह वहां थी। बता दें कि चिराग पासवान अपनी मां रीना और पिता राम विलास के साथ पटना में ही रहते हैं। ऐसे में बॉलीवुड का गलियार छोड़ वापस राजनीति का रूख कर चुके चिराग पासवान के कंधों पर पार्टी की पूरी जिम्मेदारी है।

दामाद ने लगाए सौतेली सास पर आरोप

कोई अपनी माँ या बहन के साथ ऐसा करता है क्या? जब सौतेली माँ ने लगाए चिराग पर ये आरोप

अब पहली पत्नी से रामविलास के दामाद ने चिराग पासवान और रीना शर्मा पर संगीन आरोप लगाये हैं । इसके साथ ही उन्होने मांग की है कि राजकुमारी देवी को उनका हक मिले, दलितों, वंचितों के लिये आवाज उठाने वाले पासवान परिवार में ही एक महिला का हक मारा जा रहा है, लेकिन कोई भी इसके फेवर में बोलने को तैयार नहीं है, कम से कम उन्हें पेंशन मिले ताकि वो अपना जीवनयापन अच्छे से कर सकें।

यह भी पढ़े: पिता के मौत के बाद पहली बार सौतेली माँ से मिले चिराग पासवान, तो माँ ने कह दी ये बड़ी बात

Shukla Divyanka

मेरा नाम दिव्यांका शुक्ला है। मैं hindnow वेब साइट पर कंटेट राइटर के पद पर कार्यरत...

Leave a comment

Your email address will not be published.