कोर्ट की निगरानी में हो जांच, नहीं है CBI पर भरोसा : तेजस्वी
/

कोर्ट की निगरानी में हो सुशांत आत्महत्या केस की जांच, सीबीआई पर नहीं है भरोसा : तेजस्वी यादव

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि, सुशांत सिंह राजपूत के मामले में आरजेडी पहले ही सीबीआई की मांग की थी।

पटना- नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि, सुशांत सिंह राजपूत के मामले में आरजेडी पहले ही सीबीआई की मांग की थी। तेजस्वी ने कहा, परिवार के लोगों से भी मैंने मुलाकात किया था और उस समय भी इस बात को उठाया था कि, सुशांत सिंह राजपूत की हत्या का जो संदेह है, वह पूरा देश देख रहा है कि अब तक निष्कर्ष मुंबई पुलिस का कुछ नहीं निकला है। बेहतर हो कि सीबीआई को जांच सौप दी जाए।

तेजस्वी यादव ने कहा, पहले दिन से ही हम लोग मांग करते रहे हैं कि सीबीआई जांच हो जाए। अभी तो अनुशंसा की जा रही है, हालांकि पूरी उम्मीद है कि अनुशंसा हो जाएगी। अनुशंसा हो तो हम चाहते हैं कि सीबीआई जांच हो पर कोर्ट के मॉनिटरिंग में हो।

कोर्ट की मॉनिटरिंग में हो सीबीआई जांच

सीबीआई से बड़ी कोई एजेंसी नहीं है, लेकिन उनके पास बहुत सारे मामले हैं। बिहार के ही कई केस हैं, जैसे सृजन घोटाला, कोई नतीजा नहीं आया अबतक. नवरुणा हत्याकांड उसमें भी सात साल में कोई नतीजा नहीं आया। इसलिए हम मांग कर रहे हैं कि अगर कोर्ट की मॉनिटरिंग में जांच होगी तो, निश्चित रूप से जांच होगी और समय पर जांच होगी और इससे जल्द पीड़ित परिवार को न्याय मिलेगा।

नीतीश कुमार ने बिहार पुलिस को कमजोर कर दिया

तेजस्वी ने कहा कि, राजगीर में जो फिल्म सिटी बन रही है, उसका नामांकन सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर किया जाए, उसमें देरी नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि, मुंबई पुलिस किसी नतीजे पर नहीं पहुंची थी तो, बिहार पुलिस के पास एफआईआर आया।

बिहार पुलिस कितनी सक्षम है सभी जानते हैं, सुप्रीम कोर्ट ने कई बार बिहार पुलिस को फटकार लगाई है। बालिका गृह कांड में बिहार पुलिस ने क्या किया, सभी जानते हैं। बिहार पुलिस की हद पिटवाने का काम किया। मुख्यमंत्री ने बिहार पुलिस को कमजोर कर दिया है।