पाक ने फिर जम्‍मू कश्‍मीर में की नापाक हरकत, चार जवान शहीद
/

पाकिस्तान ने फिर जम्‍मू कश्‍मीर में की नापाक हरकत, चार जवान शहीद, तीन नागरिकों की मौत

पाकिस्तान ने जम्‍मू  कश्‍मीर में नियंत्रण रेखा पर एक बार फिर नापाक हरकत करते हुए संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है. शुक्रवार को पाकिस्तानी सेना ने जम्मू कश्मीर में सीजफायर का उल्लंघन करते हुए कई जगहों पर लगातार फायरिंग की है . पाकिस्तान की नापाक हरकत में हमारे 4 जवान शहीद हो गए हैं जबकि तीन अन्य नागरिकों ने भी अपनी जान गवा दी है. भारतीय सेना के अधिकारियों ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया है कि, ” शुक्रवार को गुरेज सेक्टर से उरी सेक्टर तक पाकिस्तानी सेना की तरफ से कई बार सीजफायर का उल्लंघन किया गया था, जिसके बाद हमारे 4 जवान शहीद हो गए.

पाकिस्तान ने फिर जम्‍मू कश्‍मीर में की नापाक हरकत, चार जवान शहीद, तीन नागरिकों की मौत

घुसपैठियों की कोशिश हुई नाकाम

अधिकारियों ने बताया कि, ” पाकिस्तानी सैनिकों ने सीमा पर मोर्टार दागे और कई अन्य हथियारों से भी लगातार गोलीबारी की. उरी में नंबला सेक्टर में पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा की गई फायरिंग से हमारी सेना के 3 जवान शहीद हो गए और तीन अन्य जवान घायल भी हुए. इसके अलावा हाजी पीर सेक्टर में भी गोलीबारी के समय बीएसएफ के एक सब इंस्पेक्टर अपनी जान गवा बैठे. इस हमले में एक अन्य जवान घायल भी हो गया.

अधिकारियों ने आगे बताया कि, ” इस गोलाबारी के दौरान बारामूला जिले के उरी क्षेत्र में कमल कोटा सेक्टर के दो नागरिक अपनी जान से हाथ धो बैठे. इतना ही नहीं पाकिस्तान के इस हरकत से उरी के हाजी पीर सेक्टर के बालाकोट क्षेत्र में एक महिला की भी मौत हो गई है. हमले में कई अन्य लोगों के घायल होने की भी पुष्टि हुई है.

 

पाकिस्तान ने फिर जम्‍मू कश्‍मीर में की नापाक हरकत, चार जवान शहीद, तीन नागरिकों की मौत

अधिकारियों ने बताया कि, ” बांदीपुरा जिले के गुरेज सेक्टर और कुपवाड़ा जिले के केरन सेक्टर में पाकिस्तानी सेना द्वारा संघर्ष विराम का उल्लंघन किए जाने की सूचना प्राप्त हुई थी. इसी दौरान भारतीय सेना ने घुसपैठियों की यह कोशिश नाकाम कर दी”. रक्षा प्रवक्ता द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, केरन सेक्टर में नियंत्रण रेखा के करीब संघर्ष विराम का उल्लंघन करने वाले घुसपैठियों की मदद की जा रही थी.

संघर्ष विराम के उल्लंघन पर भारतीय सेना ने दिया जवाब

श्रीनगर स्थित रक्षा प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया, ” केरन सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास में अग्रिम चौकियों के आसपास हमारे सैनिकों ने संदिग्ध गतिविधियां देखी थी, इसी दौरान सैनिक सतर्क थे और घुसपैठियों के प्रयास नाकाम हो गए. घुसपैठ का प्रयास करने के साथ ही पाकिस्तानी सेना संघर्ष विराम का उल्लंघन भी कर रही थी”. उन्होंने बताया कि, ” पाकिस्तानी सेना की तरफ से मोर्टार और अन्य हथियारों द्वारा गोले दागे जा रहे थे. सेना इसका जवाब भी दे रही थी”.

 

माछिल सेक्टर में घुसपैठ असफल होने के दौरान कैप्टन व बीएसएफ जवान सहित अन्य तीन जवान हुए थे शहीद

7- 8 नवंबर में आधी रात के समय माछिल सेक्टर में घुसपैठ का प्रयास असफल कर दिया गया था जिसमें 3 आतंकवादी भी मारे गए थे. ऑपरेशन के दौरान हमारी सेना के एक कैप्टन और बीएसएफ के एक जवान सहित तीन अन्य सैनिक शहीद हो गए थे. प्रवक्ता ने कहा कि, ” हमारी भारतीय सेना पाकिस्तान द्वारा जम्मू कश्मीर में आतंकवादियों द्वारा की गई घुसपैठ की कोशिश को हमेशा नाकाम करने और उन्हें मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार रहती है”. बता दें, पाकिस्तान द्वारा एक हफ्ते के भीतर यह दूसरी घुसपैठ की कोशिश की गई है.

मेरा नाम उर्वशी श्रीवास्तव है. मैं हिंद नाउ वेबसाइट पर कंटेंट राइटर के तौर पर कार्य करती हूं. वैसे तो मुझे ऑनलाइन वेब पर हर बिट्स की खबर पर काम करना पसंद है, लेकिन मेरा रुझान मनोरंजन और करंट अफेयर की खबरों पर ज्यादा रहता है. इसके अलावा मुझे देश-विदेश से जुड़ी हर खबरों पर नजर रखना और जानकारी लेना पसंद है.