टीकरी बॉर्डर पर खुला किसान मॉल, टूथब्रश से लेकर रजाई व कंबल तक मुफ्त में मिल रहा जरूरी सामान

सितंबर में संसद द्वारा पारित तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन आज 30वें दिन में प्रवेश कर चुका है. करीब एक महीने से राजधानी दिल्ली के अलग-अलग बॉर्डरों पर धरने पर बैठे किसान कानून वापसी के अपनी मांगों पर अड़े हुए हैं. वहीं किसानों को सहूलियत के लिए खालसा एड ने दिल्ली के टिकरी बॉर्डर पर एक मुफ्त किसान मॉल ही खोल दिया है.

हर समान किसान मॉल में उपलब्ध हैं

टीकरी बॉर्डर पर खुला किसान मॉल, टूथब्रश से लेकर रजाई व कंबल तक मुफ्त में मिल रहा जरूरी सामान

एक दिन में 500 किसानों को फ्री में उनकी जरूरत का सामान उपलब्ध हो सकेगा। थर्मल्स और मफलर के साथ साबुन और तेल भी किसानों को दिए जाने की व्यवस्था है। मॉल के साथ कुछ ही दूरी पर खड़ी ट्रॉली में किसान को सामान देने के लिए बाकायदा टोकन दिए जाने की व्यवस्था की गई है।

इस मॉल को चलाने का काम खालसा एंड ने किसानों के लिए शुरू किया है। मॉल में महिलाओं की जरूरत का सामान भी उपलब्ध है। देसी गीजर से लेकर वॉशिंग मशीन भी किसान मॉल में उपलब्ध है। इस पूरी व्यवस्था के बारे में खालसा एंड के गुरुचरण ने मीडिया से रूबरू होकर जानकारी दी।

लिस्ट के अनुसार वॉलंटियर खुद दे रहे सामान

टीकरी बॉर्डर पर खुला किसान मॉल, टूथब्रश से लेकर रजाई व कंबल तक मुफ्त में मिल रहा जरूरी सामान

गुरुचरण सिंह ने बताया कि टीकरी बॉर्डर पर किसान मॉल की शुरुआत बुधवार से हुई है। बुधवार को 200 कूपन जारी किए गए थे। उम्मीद है कि किसानों की लिस्ट आज से बढ़ने वाली है। उनके किसान मॉल में टूथ-बुश से लेकर लोई, रजाई व कंबल सहित जरूरत का सभी सामान उपलब्ध है।

किसान को कूपन दिए जाने के बाद लिस्ट के अनुसार, खालसा एंड के वॉलंटियर बैग तैयार कर किसान को देते हैं। प्रतिरोज 500 कूपन दिए जाने का लक्ष्य है। टीकरी बॉर्डर पर करीब 16 किलोमीटर लंबी लाइन है, जिसे उनके वॉलंटियर कवर कर लेंगे।

Supriya Singh

My name is supriya .i am from ballia. I have done my mass communication from govt. polytechnic lucknow.in my family, there are 5 members including me.My mother house maker.my strengths are self confidence,willing...