सीएम तक को अरेस्ट कर लेने वाली इस अफसर से कंगना ने क्यों ले लिया पंगा, जानिए

सीएम तक को गिरफ्तार करवाने वाली तेजतर्रार आईपीएस अफसर डी रूपा मोदी गिल पिछले कुछ दिनों से लगातार चर्चा में बनी हुई है. दीपावली के मौके पर पटाखे ना जलाने को लेकर भी उन्होंने बहस छेड़ी थी, इसके बाद कंगना राणावत ही उनके मामले में बोल पड़ीं. जानकारी के मुताबिक कंगना राणावत ने आईपीएसडी रूपा को पुलिस विभाग पर धब्बा बताया है, साथ ही उन्हें सस्पेंड करने की भी मांग की.

सीएम तक को अरेस्ट कर लेने वाली इस अफसर से कंगना ने क्यों ले लिया पंगा, जानिए

 

कौन हैं आईपीएस अफसर डी रूपा मोदी गिल

आईपीएस अफसर डी रूपा अपने एक्शन और तेजतर्रार रुख के चलते हमेशा चर्चा में रहती है. आज हम जानेंगे इस महिला आईपीएस की जिंदगी से जुड़ी हुई कुछ खास बातें

सीएम तक को अरेस्ट कर लेने वाली इस अफसर से कंगना ने क्यों ले लिया पंगा, जानिए

आईपीएस अफसर डी रूपा मोदी गिल कर्नाटक के दावनगेरे की निवासी है. रूपा ने कर्नाटक से अपनी पढ़ाई पूरी की और यूपीएससी की तैयारी में लग गई. जिसके बाद साल 2000 में उन्होंने सिविल सर्विस की परीक्षा पास करने के बाद आईपीएस ज्वाइन किया. ट्रेनिंग के दौरान उनकी रैंक काफी अच्छी आई, जिसके बाद में कर्नाटक कैडर मिला. डी रूपा ने 7003 में मुनीष मोदगिल से शादी की थी. रूपा के पति मुनीष मोदगिल भी आईएएस अफसर हैं. आईपीएस अफसर डी रूपा की छोटी बहन आईआरएस अफसर हैं. आईपीएस अफसर डी रूपा मोदी गिल की शादी के बाद उनके दो बच्चे भी हैं जिनके नाम अनागा और रोषिल हैं.

40 से भी ज्यादा हो चुके हैं रूपा के तबादले

तेजतर्रार आईपीएस अफसर डी रूपा मोदी गिल अपने 20 साल के करियर में अब तक 40 से ज्यादा तबादले नहीं झेल चुकी हैं. उनके इन तबादलों का सबसे बड़ा कारण यह है कि, वह आए दिन राजनेताओं से उलझती रहती है. इन दिनों बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना राणावत ने सोशल मीडिया पर आईपीएस अफसर डी रूपा के खिलाफ सस्पेंड होने की मांग शुरू कर दी है. इस समय रूपा कर्नाटक के गृह सचिव पद पर कार्यरत है.

सीएम तक को अरेस्ट कर लेने वाली इस अफसर से कंगना ने क्यों ले लिया पंगा, जानिए

 

उमा भारती को कर चुकी हैं गिरफ्तार

आईपीएस रूपा मोदी गिल नेता उमा भारती को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के पद पर रहते हुए भी गिरफ्तार कर चुकी है. 1994 के हुबली दंगा में कोर्ट ने उमा भारती को दोषी ठहराया था, उस समय रूपा के नेतृत्व में ही कर्नाटक पुलिस की टीम ने भारतीय जनता पार्टी नेत्री को हिरासत में लिया था. उस दौरान आईपीएस अफसर डी रूपा ने शशि कला के लिए भी काफी मुश्किलें बढ़ा दी थी उन्होंने जेल के अंदर शशि कला को मिल रही वीआईपी सुविधाओं के बारे में खुलासा किया था और उनके लिए काफी मुश्किलें बढ़ा दी थी.

Urvashi Srivastava

मेरा नाम उर्वशी श्रीवास्तव है. मैं हिंद नाउ वेबसाइट पर कंटेंट राइटर के तौर पर...