सुशांत केस में अर्नब लाए नया गवाह पैनलिस्ट ने कसा तंज
/

सुशांत केस में अर्नब गोस्वामी लाए नया गवाह पैनलिस्ट ने कसा तंज

आए दिन सुशांत केस में कोई ना कोई बातें निकल के आ रही है। इसी बीच अर्नब गोस्वामी ने एक इंटरव्यू में बताया कि उनके पास ऐसे गवाह है, जिसने उन्हें बताया कि 13-14 जून को रिया सुशांत से मिली थीं, और सुशांत रिया को उनके घर छोड़ने भी गए थे। अर्नब के इस बात पर एक पैनलिस्ट ने उन पर तंज कसते हुए कहा कि ‘कहां से लाते हो रोज ऐसे चंपू?’जिसके बाद अर्नब पैनलिस्ट की इस बात पर काफी नाराज दिखाई दिए।

क्या कहा अर्नब ने

पैनलिस्ट को जवाब में अर्नब ने कहा कि ये इंटरव्यू मैं एडिट करके भी दिखा सकता था, मगर मैंने सोचा कि आपका इंटरव्यू लाइव जाना चाहिए। इसलिए विवेकानंद जी मैं कहना चाहता हूं सोच समझ कर कहिएगा। आपने कहा कि रिया और सुशांत की 13 तारीख की रात को मीटिंग हुई।’

विवेकानंद दावा करते हुए कहते हैं कि उन्हें आई-विटनेस ने कहा- ’13 और 14 की रात को सुशांत रिया को छोड़ने के लिए उनके फ्लैट पर गए थे। विटनेस ने अपनी आंखों से देखा है। मैं जानता हूं कि मैं क्या कह रहा हूं और इसके क्या परिणाम होंगे। मैं इसका उत्तरदायित्व ले कर बोल रहा हूं कि मैं और गवाह, हम दोनों सीबीआई की पूछताछ के लिए तैयार हैं।’

सुरजीत सिंह राठौर ने लिया सूरज सिंह का नाम

वहीं मौजूद सुरजीत सिंह राठौर ने कहा कि मैं तो खुलकर नाम ले रहा हूं कि सूरज सिंह ने कूपर हॉस्पिटल में मुझसे कहा था कि रिया रात को सुशांत के साथ थी। मुझसे सीबीआई पूछेगी तो मैं बयान देने जाऊंगा। सूरज सिंह को सामने आना चाहिए। कहां है वो। सूरज कहां है, पता ही नहीं।’

अर्नब ने मांगा मुकेश खन्ना का रिएक्शन


अपनी बात पर अर्नब गोस्वामी ने मुकेश खन्ना का रिएक्शन भी मांगा। वहां पर मौजूद मनोज ने कहा कि चंपक की कहानी का चौथा चंपू कहां से लाए हैं आप? चंपक की कहानी का जो चौथा चंपू बोल रहा है, कहां कहां से उठाकर लाते हैं इन लोगों को?’ उन्होंने आगे कहा कि अरे ये चंपक की कहानियां छोड़ दीजिए।’ इस पर अर्नब भड़कते हैं और कहते हैं कि – ‘दो लोग कह रहे हैं कि 13-14 की रात को सुशांत रिया से मिले थे। और आप कह रहे हैं चंपक की कहानी का चंपू? इस बात पर रिएक्ट करते हुए मुकेश खन्ना ने कहा कि अऱे ये चंपक की कहानी कहने वाले कौन हैं? ये बहुत बड़ा खुलासा है। इन्हें कहें कि ये चंपक की कहानियां बोलना बंद करें। इन्हें कुछ पता नहीं है और बोले चले जा रहे हैं।’