प्रियंका गांधी
INC

कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने आज उत्तर प्रदेश में रामपुर ज़िले के बिलासपुर के गांव डिबडिबा में 26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड के दौरान मारे गए प्रदर्शनकारी नवरीत सिंह के घर जारकर परिवार से मुलाकात की। रामपुर जाते समय प्रियंका गांधी ने एक ट्वीट किया, “सूरा सो पहचानिए, जो लरै दीन के हेत, पुरजा-पुरजा कट मरै कबहू ना छाड़े खेत”।

सत्ता में बैठी सरकार को अब अहंकार हो गया है

प्रियंका गांधी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी दिल्ली में गणतंत्र दिवस के दिन हिंसा में मारे गए नवरीत सिंह के परिवार से मुलाकात करने उत्तर प्रदेस के रामपुर पहुंची थी

नवरीत के परिवार से मुलाकात करने के बाद प्रियंका गाधी ने कहा कि, “ये किसानों की लड़ाई है जिसके पीछे न कोई राजनेता है और न ही कोई राजनीतिक पार्टी है”।

प्रियंका गांधी वाड्रा ने किसाने की बात रखते हुए कहा, “बीते दो महीनों से बैठे किसान आखिर क्या कह रहे हैं, वो यही तो कह रहे हैं कि हमारे लिए कांनून बना रहे हैं तो हमसे पूछो कि इसका हम पर क्या असर पड़ेगा”।

पीएम मोदी पर साधा निशाना

ट्रैक्टर रैली में मारे गये किसान के घर पहुंची प्रियंका गांधी, मोदी को बताया अहंकारी

पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए प्रियंका गांधी ने कहा,

“पीएम मोदी ने हाल में कहा कि अगर किसान बात करना चाहें तो मैं एक फोन कॉल दूर हूं। उनमें इतना अहंकार है कि वो किसानों से मिलने नहीं जा सकते। प्रधानमंत्री आवास से दिल्ली बॉर्डर अखिर दूर ही कितना है”।

प्रियंका ने कहा दिल्ली के बॉर्डर पर इस तरह से बैरिकेडिंग की गई है जैसे वो अंतरराष्ट्रीय सीमा हो। उन्होंने कहा, “सत्ता में बैठी सरकार को अब अंहकार हो गया है। जनता से उसका जुड़ाव टूट गया है, उसे अब जनता की आवाज़ सुनाई नहीं दे रही है”।

प्रियंका गांधी का काफिला हादसे का हुआ शिकार

उत्तर प्रदेश के रामपुर जाते वक्त कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा का काफिला गुरुवार को हादसे का शिकार हो गया, इस हादसे में किसी को भी कोई चोट नहीं पहुंची। जानकारी के मुताबिक, रामपुर जाते वक्त काफिले की गाड़ियां आपस में टकरा गई। गनीमत की बात है कि किसी को भी चोट नहीं पहुंची और सब कुछ सुरक्षित रहा।

इसी बीच रामपुर जाते वक्त प्रियंका गांधी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया जिसे वो अपनी का गाड़ी का शीशा साफ कर रही है। प्रियंका गाधी जैसे ही विंडस्क्रीन साफ करना शुरू करती हैं, वैसे ही उनके साथ जा रहे पार्टी के कई पदाधिकारी उनसे डस्टर हाथ में लेकर खुद शीशा साफ करने लगते हैं। फिर भी प्रियंका दूसरा डस्टर लेकर विंडस्क्रीन साफ करना जारी रखती है बड़े राजनेताओं का ऐसा रूप लोग बहुत कम बार ही देख पाते हैं। ऐसे में प्रियंका गाधी की इस बात पर शोसल मीडिया पर खूब सराहना हो रही है, तो वही कुछ लोग इसे दिखावा भी बता रहे हैं।

कौन थे नवरीत सिंह जिनकी ट्रैक्टर परेड हादसे में हुई थी मौत

नवरीत सिंह

नवरीत उत्तर प्रदेश में रामपुर ज़िले के बिलासपुर के गांव डिबडिबा के रहने वाले थे। दिल्ली के आईटीओ इलाके में उनकी मौत हो गई थी। प्रदर्शनकारियों ने गोली लगने से मौत होने का आरोप लगाया था। दूसरी तरफ पुलिस का कहना है कि ट्रैक्टर पलटने से हुए हादसे में वो मारे गए। इससे जुड़ी सीसीटीवी फुटेज भी जारी की जा चुकी है। नवरीत हाल ही में ऑस्ट्रेलिया से आए थे और किसान आंदोलन में शामिल होने दिल्ली गए थे।