राम मंदिर निर्माण से बौखलाए आतंकी, यूपी को उड़ाने की तैयारी
/

राम मंदिर निर्माण से बौखलाए आतंकी, दिल्ली और यूपी को उड़ाने की योजना का पर्दाफाश

5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में भव्य मंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन किया था।

नई दिल्ली- 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में भव्य मंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन किया था। इससे जहां देशवासियों में हर्ष और उल्लास का भाव है तो वहीं मजहबी कट्टरपंथी इससे बौखलाहट में हैं। दिल्ली पुलिस ने आज धौलाकुआं से ISIS के एक आतंकवादी को गिरफ्तार किया है। उसने पुलिस की पूछताछ में कई महत्वपूर्ण खुलासे किए हैं। आतंकी अबू युसूफ राम मंदिर निर्माण को लेकर बम धमाका करना चाहता था। वह अफगानिस्तान में मौजूद अपने कुछ आकाओं के संपर्क में था।

भारी मात्रा में मिला विस्फोटक

आतंकवादी के पास से दिल्ली पुलिस को बड़ी मात्रा में विस्फोटक भी मिला है। एनएसजी की टीम जांच कर रही है कि प्रेशर कुकर में मौजूद विस्फोटक कौन सा था और उसमें कौन सा केमिकल इस्तेमाल किया गया था। आतंकी के पकड़े जाने के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस को आगाह किया गया है। इसके बाद यूपी में हाई अलर्ट लगा है। इससे पहले दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल के प्रमुख प्रमोद सिंह कुशवाहा के मुताबिक, मुठभेड़ के दौरान आईएसआईएस एजेंट को पकड़ने से पहले 6 राउंड फायर किए गए। आरोपी की पहचान अब्दुल यूसुफ खान के रूप में की गई है। कुछ रिपोर्ट्स में कहा गया है कि आतंकी के साथ एक व्यक्ति और था, जो फरार हो गया।

अफगानिस्तान से कंट्रोल कर रहे थे आका

शुरुआती जांच में अहम जानकारी निकल कर सामने आई है आतंकी को इस्लामिक स्टेट के कमांडर्स अफगानिस्तान से कंट्रोल कर रहे थे। गिरफ्तार आईएसआईएस ऑपरेटिव को इस्लामिक स्टेट द्वारा खुरासान प्रांत के कमांडरों द्वारा अफगानिस्तान से ऑपरेट किया जा रहा था और वह भारत में आतंकी हमलों की योजना बना रहा था।

यही नहीं वह कश्मीर की आईएस संस्थाओं के संपर्क में भी था। उसे जांच के लिए अपने मूल स्थान, बलरामपुर, यूपी ले जाया गया। इसके साथ ही वह आईएसआईएस ऑपरेटिव इस्लामिक स्टेट के साथ खुरासान प्रांत के संचालकों के साथ साइबरस्पेस के जरिए संपर्क में था।