योगी छोड़ किसी भी मुख्यमंत्री को न्‍योता नहीं, सोनिया-राहुल को भी बुलावा नहीं!
/

राम मंदिर शिलान्यास कार्यक्रम: योगी छोड़ किसी भी मुख्यमंत्री को न्‍योता नहीं, सोनिया-राहुल को भी बुलावा नहीं!

राम मंदिर शिलान्यास कार्यक्रम में किसी राज्य के मुख्यमंत्री को न्योता नहीं दिया जाएगा।

नई दिल्‍ली- राम मंदिर शिलान्यास कार्यक्रम में किसी राज्य के मुख्यमंत्री को न्योता नहीं दिया जाएगा। इस कार्यक्रम में सिर्फ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रहेंगे। विश्व हिंदू परिषद के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा कि उद्धव ठाकरे को भी इसीलिए न्योता नहीं दिया गया है। सूत्रों के मुताबिक सोनिया गांधी और राहुल गांधी को भी निमंत्रण नहीं भेजा गया है।

अयोध्या के विकास को 500 करोड़ की सौगात

5 अगस्त को अयोध्या में करीब 326 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास किया जाएगा। वही योगी सरकार में शुरू हुई विकास परियोजनाओं के पूरा होने पर करीब 161 करोड़ की परियोजनाओं का पीएम मोदी लोकार्पण करेंगे।

दूरदर्शन पर होगा भूमि पूजन का सजीव प्रसारण

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि लोग अपने घरों में और संत-महंत अपने मंदिरों में घी के दीपक जलाएं। कोरोना संक्रमण के कारण सभी लोगों की उत्सव में प्रत्यक्ष भागीदारी सम्भव नहीं है, लेकिन दूरदर्शन पर भूमि पूजन का सजीव प्रसारण होगा। सभी लोग अपने घरों से ही इस ऐतिहासिक अवसर के साक्षी बन सकेंगे।

उन्होंने संतों से आग्रह किया कि कोरोना संकट के कारण सभी संतों को भूमि पूजन में आमंत्रित नहीं किया जा पा रहा है। इस कारण जिन संतों के नाम से आमंत्रण ट्रस्ट की ओर से भेजा जाय वही संत आयोजन में पधारें शिष्य या अन्य साधुओं को साथ न लाएं।

इन लोगों के कार्यक्रम में भाग लेने की संभावना

कार्यक्रम में लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती और कल्याण सिंह के साथ साध्वी ऋतंभरा और विनय कटियार भी कार्यक्रम में मौजूद रहने की संभावना है। वहीं 50 की संख्या में उद्योगपति और अधिकारी भी कार्यक्रम में मौजूद रह सकते हैं।

परिसर में 50-50 लोगों के अलग-अलग ब्लॉक में करीब 200 लोग मौजूद होंगे। 50 की संख्या में देश के बड़े साधु-संत मौजूद रहेंगे, 50 की संख्या में देश के बड़े नेता और आंदोलन से जुड़े लोगों की रहने की संभावना है।