भारत पहुंची कोरोना वायरस की रूसी वैक्सीन स्पुतनिक V, जल्द शुरू होगा ​क्लिनिकल ट्रायल

पूरी दुनिया इस समय कोरोना  महामारी से बुरी तरह जूझ रही है. लोगों के स्वास्थ से लेकर देशों की इकॉनमी का इस महामारी में बेहद ही बुरा हाल है. ऐसे में पूरी दुनिया अगर किसी एक चीज पर टकटकी लगाए बैठी है तो वो है कोरोना की वही  वैक्सीन. वहीं लम्बे इंतजार के बाद कोरोना वायरस की रूसी वैक्सीन भारत आ गई है। भारत की फार्मा कंपनी डॉक्टर रेड्डीज़ जल्द ही भारत में इस कोरोना वैक्सीन स्पुतनिक V का  दूसरे और तीसरे चरण का अडेप्टिव क्लिनिकल ट्रायल शुरू करेगी। हाल ही में इस कंपनी को कोरोना वैक्सीन के भारत में ह्यूमन ट्रायल की अनुमति मिली थी।

कोरोना वायरस की रूसी वैक्सीन भारत आ गई

भारत पहुंची कोरोना वायरस की रूसी वैक्सीन स्पुतनिक V, जल्द शुरू होगा ​क्लिनिकल ट्रायल

दक्षिण भारत के अखबार न्यू इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार डॉ. रेड्डी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पुष्टि की है कि टीके भारत में आ चुके हैं और शीघ्र ही क्लीनिकल ट्रायल भी शुरू हो जाएंगे। गामाले नेशनल रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ एपिडेमियोलॉजी एंड माइक्रोबायोलॉजी और रूसी डायरेक्ट इनवेस्टमेंट फंड ने कल ही घोषणा की थी कि स्पूतनिक V वैक्सीन कोविड-19 के खिलाफ लोगों की सुरक्षा में 92% प्रभावी पाया गया है।

भारत में स्पुतनिक V के क्लिनिकल ट्रायल

भारत पहुंची कोरोना वायरस की रूसी वैक्सीन स्पुतनिक V, जल्द शुरू होगा ​क्लिनिकल ट्रायल

डॉ. रेड्डी के पहले से साझा की गई जानकारी के अनुसार, यह एक मल्टी-सेंटर और रैंडम अध्ययन होगा जिसमें सुरक्षा और इम्युनोजेनिक अध्ययन शामिल होंगे। सितंबर में जब डॉ. रेड्डी ने भारत में स्पुतनिक V के क्लिनिकल ट्रायल के संचालन और यहाँ इसके वितरण के लिए RDIF के साथ साझेदारी की थी। साझेदारी के तहत, आरडीआईएफ डॉ. रेड्डी को विनियामक अनुमोदन पर वैक्सीन की 10 करोड़ खुराक की आपूर्ति करेगा।

My name is supriya .i am from ballia. I have done my mass communication from govt. polytechnic lucknow.in my family, there are 5 members including me.My mother house maker.my strengths are self confidence,willing...