नासा का करोड़ो का ऑफर ठुकरा 19 साल के इस वैज्ञानिक ने देश के लिए काम करने का किया फैसला

बिहार के भागलपुर जिले के ध्रुबगंज गांव में 19 साल पहले किसान प्रेमरंजन कुंवर के घर पैदा हुए बेटे गोपाल जी के बारे में किसी ने सोचा भी नहीं था कि वो एक दिन दुनियाभर में अपना और पूरे परिवार का नाम रोशन करेगा। वजह यह है कि छोटी सी उम्र में गोपाल ने अपनी प्रतिभा के दम पर अमेरिका तक में अपनी छाप छोड़ी है। आइए जानते है गोपाल के बारे में….

2014 में पास किया हाई स्कूल

नासा का करोड़ो का ऑफर ठुकरा 19 साल के इस वैज्ञानिक ने देश के लिए काम करने का किया फैसला

बिहार की राजधानी पटना से 223 किलोमीटर दूर स्थित गांव ध्रुबगंज के गोपाल की कामयाबी का सफर बेहद मुश्किल भरा रहा है, मगर विपरित हालात में भी गोपाल ने हार नहीं मानी। वर्ष 2008 में गोपाल का गांव भीषण बाढ़ की चपेट में आ गया था। सब कुछ बर्बाद हो चुका था, लेकिन गोपाल ने पढ़ाई जारी रखी। वर्ष 2014 में दसवीं उत्तीर्ण की। उस दौरान बायो सेल की खोज करके गोपाल ने सबको चौंका दिया था। उस खोज के लिए गोपाल को इंस्पायर्ड अवार्ड भी मिला था।

पीएम मोदी से मिलने का मिला मौका

नासा का करोड़ो का ऑफर ठुकरा 19 साल के इस वैज्ञानिक ने देश के लिए काम करने का किया फैसला

30 जनवरी से 8 फरवरी 2020 तक आबूधाबी में विश्व का सबसे बड़ा साइंस फेयर हो रहा है। इसमें गोपाल को बतौर मुख्य वक्ता आमंत्रित किया गया है। आबूधाबी साइंस फेयर 2020 में दुनिया से करीब छह हजार से ज्यादा वै​ज्ञानिक शामिल हो रहे हैं। छोटे से गांव के गोपाल की प्रतिभा के दम पर उसे आबूधाबी साइंस फेयर 2020 में बुलाया जाना हर किसी के लिए गौरवशाली है। गोपाल को अपने आविष्कारों के चलते वर्ष 2017 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मिलने का मौका मिला। पीएम मोदी ने उसे अपनी प्रतिभा को निखारने के लिए राष्ट्रीय नवप्रर्वतन प्रतिष्ठान अहमदाबाद (एनआईएफ) भेज दिया। वहां पर गोपाल ने छह आविष्कार किए।

तीन बार ठुकराए नासा के ऑफऱ

नासा का करोड़ो का ऑफर ठुकरा 19 साल के इस वैज्ञानिक ने देश के लिए काम करने का किया फैसला

अमेरिका की स्पेश एजेंसी नासा में काम करने का हर कोई ख्वाब देखता है, मगर बिहार के इस युवा वैज्ञानिक गोपाल जी ने नासा का ऑफर तीन बार सिर्फ इसलिए ठुकरा दिया कि भारत में ही रहकर देश के लिए कुछ करना है। फिलहाल गोपाल देहरादून में बनी लैब में शोध और अनुसंधान कर रहे हैं।

ये है गोपाल के अविष्कार

नासा का करोड़ो का ऑफर ठुकरा 19 साल के इस वैज्ञानिक ने देश के लिए काम करने का किया फैसला

गोपाल ने बहुत सी चीजों की खोज की और बनाया भी , जिनमें से ये कुछ है।

1.हाइड्रो इलेक्ट्रिक बायो सेल- इस डिवाइस से 50 हजार वोल्ट बिजली स्टोर की जा सकती है।

2.पेपर बायो सेल- वेस्टेज पेपर से बिजली और  जी स्टार पाउडर- इसे लगाकर 5 हजार डिग्री सेल्सियस का हीट गेन किया जा सकता है।
नासा का करोड़ो का ऑफर ठुकरा 19 साल के इस वैज्ञानिक ने देश के लिए काम करने का किया फैसला
3.बायोडिग्रेडेबल प्लास्टिक- केले के थंब से बायोडिग्रेडेबल प्लास्टिक बनाया गया है। इसका इस्तेमाल करने के बाद यह खुद-ब-खुद खाद बन जाएगा। खेतों में इसका इस्तेमाल हो सकेगा।

4. सोलर माइल- सोलर एनर्जी और विंड एनर्जी को मिलाकर इसे बनाया गया है। 2 किमी की रफ्तार से हवा चलने पर भी बिजली स्टोर की जा सकेगी।

Shukla Divyanka

मेरा नाम दिव्यांका शुक्ला है। मैं hindnow वेब साइट पर कंटेट राइटर के पद पर कार्यरत...