इस शख्स ने लाल किले पर फहराया था किसानों का झंडा

26 जनवरी गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान किसानों के ट्रैक्टर परेड में शामिल हुए प्रदर्शनकारियों ने  लाल किले की प्राचीर पर ठीक उस स्थान पर निशान साहिब व किसान संगठनों के झंडे लहराये जहां हर साल स्वतंत्रता दिवस पर देश के पी एम तिरंगा फहराते हैं। देश की जनता को यह चीज बिल्कुल भी पसंद नहीं आई थी, जिसे लेकर अब पूरे देश में काफी ज्यादा बवाल भी मच चुका है। पुलिस भी लगातार उस शख्स को ढूंढने में लगी हुई है, जिस ने दिल्ली के लाल किले पर चढ़ कर निशान साहिब का झंडा फहराया था।

इस शख्स ने लाल किले पर फहराया था किसानों का झंडा

वायरल हुआ मामले का वीडियो

हाल ही में इस मामले का एक वीडियो भी वायरल हुआ है। वायरल हो रहे वीडियो में यह बताया जा रहा है कि, वह व्यक्ति तरण तारण में वान तारा सिंह गांव के निवासी जुगराज सिंह है। शख्स की पहचान पर यह भी कहा गया है कि, उस के परिवार वाले इस बात को लेकर उस पर बहुत ही गर्व कर रहे हैं।

इस वीडियो में एक युवा की आवाज़ भी सुनी जा सकती है, जो खुद को जुगराज के रिश्तेदार बता रहे हैं। युवा कहता है कि, ‘वान तारा सिंह गांव के जुगराज सिंह के द्वारा लाल किले पर खालसा का झंडा फहराया गया’।

इस शख्स ने लाल किले पर फहराया था किसानों का झंडा

बेटे पोते की तारीफ कर गर्व कर रहे रिश्तेदार

वायरल हो रहे इस विडियो में जुगराज के पिता और मां, दादा बल देव सिंह व महल सिंह, दादी के बारे में भी बात की गई, जिस में सब अपने बेटे पोते की तारीफ कर गर्व कर रहे हैं। वीडियो से आवाज़ आती है, ‘सिख पंथ के लिए यह बहुत ही गर्व की बात है कि, लाल किले पर पूर्व में विजय का खालसा फहराया गया है’।

फ़िलहाल अब यह मामला इतना ज्यादा गर्म हो चुका है कि, लोग लगातार सोशल मीडिया के माध्यम से विरोध प्रदर्शन करते हुये नजर आ रहे हैं, और शख्स के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई की भी मांग कर रहे हैं।

Urvashi Srivastava

मेरा नाम उर्वशी श्रीवास्तव है. मैं हिंद नाउ वेबसाइट पर कंटेंट राइटर के तौर पर...