लद्दाख में फिर सरगर्मी, वायुसेना की मारक क्षमता को बढ़ाने को दो एडवांस लाइट हेलीकाप्टर तैनात

लद्दाख- पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चीन से तनाव के बीच ऑपरेशन के लिए भारतीय वायु सेना के बेड़े में दो एडवांस लाइट हेलीकाप्टर तैनात कर दिए गए हैं। चीन के मंसूबाें को नाकाम बनाने के लिए ये हेलीकाप्टर आधुनिक हथियारों से लैस हैं। हिन्दोस्तान एयरनोटिकल लिमिटेड द्वारा विश्व के सबसे हलके हेलीकाप्टर मौजूदा सुरक्षा परिदृश्य को देखते हुए अतिशीध्र तैयार किए गए हैं।

लद्दाख में इनकी तैनाती से भारतीय वायुसेना की मारक क्षमता में वृद्धि हुई है। इसे सशस्त्र सेना की जरूरतों व लद्दाख जैसे दुर्गम इलाकों के हालात को ध्यान में रखते हुए मोदी सरकार के आत्म निर्भर भारत मुहिम के तहत तैयार किया गया है।

दो दिन पूर्व लद्दाख में उड़े थे राफेल विमान

लद्दाख में फिर सरगर्मी, वायुसेना की मारक क्षमता को बढ़ाने को दो एडवांस लाइट हेलीकाप्टर तैनात

गौरतलब है कि दो दिन पूर्व ही चीन से लगते लद्दाख के इलाकों में राफेल विमान भी उड़ते हुए देखे गए हैं। चीन के साथ सीमा पर तनातनी के बीच भारत ने तेजी के साथ अपनी तैयारी की है। सरकार की तरफ से इमरजेंसी फंड जारी कर कई युद्धक सामग्री मंगाई गई हैं। 29 जुलाई को राफेल विमान की पहली खेप आने के बाद भारतीय वायुसेना को भी और ज्यादा मजबूती मिली है। राफेल इस वक्त दुनिया के सबसे शानदार लड़ाकू विमानों में गिना जाता है।

एडवांस लाइट हेलीकाप्टर की ये हैं खूबियां

एचएएल के अध्यक्ष आर माधवन ने कहा यह दुनिया का सबसे हल्का अटैक हेलीकॉप्टर है जिसे एचएएल द्वारा डिजाइन और विकसित किया गया है, जो भारतीय सशस्त्र बलों की विशिष्ट और अद्वितीय आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए है। यह आत्मनिर्भर भारत की अहम भूमिका को भी दर्शाता है। लेह सेक्टर में अपने दो हेलिकॉप्टरों की तैनाती की जानकारी एचएएल ने अपने एक ट्वीट के जरिए दी।

Leave a comment

Your email address will not be published.