Csk

CSK: इंडियन प्रीमियर लीग 2022 में अब तक की सबसे सफल टीम मुंबई इंडियन्स और चेन्नई सुपर किंग्स प्लेऑफ की रेस से सबसे पहले बाहर होने वाली टीमें है. शुक्रवार को चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ आईपीएल 2022 (IPL 2022) में लीग के आखिरी मैच में भी चेन्नई (CSK) की टीम को 5 विकेट से हार का सामना करना पड़ा. चेन्नई की लीग में शुरुआत भी काफी खराब रही और बीच- बीच में मैच जीतने के साथ 14 मैच में टीम 10 मैच हार कर पॉइंट्स टेबल में 9th पोजीशन पर सीज़न को खत्म करती है. तो चलिए आज बात करते है चेन्नई की टीम की उन पांच गलतियों के बारे में जिसकी वजह से वो आईपीएल सीज़न में इतनी बुरी तरह हारी.

चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) की आईपीएल 2022 में हार की वजह

1. बैटिंग ने किया निराश

आईपीएल 2022 में चेन्नई की हार में ऑक्शन से लेकर कप्तानी तक ये पांच फैसले रहे हार के जिम्मेदार

चेन्नई (CSK) के इस साल के परफॉरमेंस को देखे तो टीम की बल्लेबाज़ी ने सबसे ज्यादा निराश किया है. अगर रनों को देखे तो टीम के लिए सिर्फ ऋतुराज गायकवाड अकेले खिलाडी है जिन्होंने 300 से ज्यादा रन का आंकड़ा पार किया है. दुसरे नंबर पर शिवम् दुबे है जिन्होंने 289 रन बनाये है. टीम (CSK) के लिए कोई भी बल्लेबाज़ एक शतक तक नहीं लगाया तो आप खुद ही अंदाज़ा लगा सकते है की टीम के बैटिंग लाइनअप ने किस तरह से विपक्षी गेंदबाजी के सामने दम तोडा है. अगर लीग के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाडियों की लिस्ट में भी ऋतुराज 18वें नंबर पर आते है.

2. दीपक चाहर की चोट

Deepak Chahar

चेन्नई (CSK) की तेज़ गेंदबाजी इस साल काफी हल्की नज़र आई. इसके लिए सबसे ज्यादा अगर किसी गेंदबाज़ की गलती है तो वो है दीपक चाहर. जी हाँ, चेन्नई (CSK) ने उनको लगभग हर मैच में मिस किया. इस टीम के लिए सबसे बड़ी दिक्कत ये रही कि ये टीम पावर प्ले में विकेट निकालने में कामयाब नहीं हो पाई जिसके चलते विरोधी टीमों ने इनके खिलाफ जमकर रन बनाए. टीम ने कई बार अलग अलग बोलिंग ऑप्शन का इस्तेमाल किया लेकिन कोई भी दीपक की जगह नहीं ले पाया.

3. कप्तानी रही बड़ा फैक्टर

Ms Dhoni

इस सीज़न की शुरुआत में ही धोनी ने टीम की कप्तानी को छोड़ दिया था. इसके बाद रविन्द्र जडेजा को कप्तान बनाया गया. टीम का कप्तान जितना अहम् होता है उतना ही उनको बनाने में मैनेजमेंट ने जल्दीबाजी की. जडेजा एक कप्तान के तौर पर अपनी इस पारी में पूरी तरह असफल रहे. मानसिक तौर पर खिलाड़ियों को समझ ही नहीं आया कि टीम का असली कप्तान कौन है क्योकि मैदान पर कई बार धोनी को फील्डिंग सेट करते हुए देखा गया था.

4. ऑक्शन में लिए कुछ गलत फैसले

Csk

टीम ने मेगा ऑक्शन में शायद जो प्लान बनाया था वो सफल नहीं हुआ. सबसे पहले तो फाफ डू प्लेसिस जैसे शानदार खिलाडी को टीम ने रिलीज़ कर दिया और इसके बाद मेगा ऑक्शन में टीम फाफ और शार्दुल दोनों को ही खरीदने के लिए काफी उत्साहित दिखाई दी लेकिन 14 करोड़ में दीपक चाहर को खरीदने पर टीम के लिए बाकि दोनों खिलाडी बजट से बाहर हो गये और टीम उतनी संतुलित नहीं बन पाई जितनी की उम्मीद की जा रही थी.

5. रिटेन प्लेयर्स की बेहद खराब फॉर्म

आईपीएल 2022 में चेन्नई की हार में ऑक्शन से लेकर कप्तानी तक ये पांच फैसले रहे हार के जिम्मेदार

आईपीएल 2022 से पहले सभी टीमों को चार प्लेयर्स को रि टेन करने का विकल्प दिया गया था जिसके चलते चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) ने रविन्द्र जडेजा, एम्एस धोनी, मोईन अली और ऋतुराज गायकवाड को रिटेन किया. अगर हम इन चारों की खिलाडियों को देखे तो किसी ने भी टीम के लिए कोई भी ख़ास प्रदर्शन नहीं किया है. जहाँ एक तरफ जडेजा 10 मैच में 5 विकेट और 116 रन बनाकर फ्लॉप रहे वही मोईन अली भी बल्ले और गेंद दोनों से काफी फीके नज़ार आये. ऋतुराज ने कुछ अच्छे हाथ दिखाए लेकिन जब तक वो फॉर्म में आये तब तक काफी देर हो चुकी थी. धोनी ने बल्ले से टीम के लिए रन बनाये लेकिन लोअरआर्डर में बैटिंग के चलते टीम के लिए फिनिशर की भूमिका में वो अब न्याय करते नज़र नहीं आते है.

और पढ़िए:

आईपीएल 2022 में शानदार प्रदर्शन के बाद इस खिलाडी ने कहा, मुझमें अभी तीन साल का क्रिकेट और बाकी, जल्द करूंगा टीम में वापसी 

आईपीएल 2022 में शानदार वापसी करने वाले पांच खिलाडी, एक ने खेले पिछले दो साल में बस 5 मैच

कोरोना से फिर हुआ क्रिकेट जगत प्रभावित, इस बार न्यूज़ीलैण्ड टीम में मिले तीन खिलाडी पोजिटिव