दर्द में कराहते हुए भी Cricket के इन खिलाड़ियों ने नहीं छोड़ा अपने देश का साथ
दर्द में कराहते हुए भी Cricket के इन खिलाड़ियों ने नहीं छोड़ा अपने देश का साथ
Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

क्रिकेट (Cricket) एक ऐसा खेल है, जहां मैदान पर खिलाड़ी अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए जी-जान लगा देते है। वहीं कभी-कभी मैच के दौरान खिलाड़ी खेलते हुए चोटिल होता नजर आता है। दरअसल चोटें हमेशा क्रिकेट या किसी अन्य खेल में खेल का हिस्सा रही हैं। हमने अक्सर खिलाड़ियों के एक-दूसरे से टकराने या कई पर गेंद से टकराने के परिणामस्वरूप टूटे हुए जबड़े और अंगों को देखा है।

वहीं कुछ ऐसे खिलाड़ी भी देखे गए है जिन्होंने मैच के दौरान अपनी जान भी गंवाई है। हालांकि कुछ खिलाड़ी दर्द से गुजरते हुए अपनी टीम के लिए खेलते हुए नजर आए। आइये इस आर्टिकल के जरिए बताते है Cricket के इन खिलाड़ियों के बारे में।

इंजर्ड होने के बावजूद Cricket के इन खिलाड़ियों ने नहीं छोड़ा अपने देश का साथ

1.बर्ट सटक्लिफ

दर्द में कराहते हुए भी Cricket के इन खिलाड़ियों ने नहीं छोड़ा अपने देश का साथ
दर्द में कराहते हुए भी Cricket के इन खिलाड़ियों ने नहीं छोड़ा अपने देश का साथ

इस लिस्ट में सबसे पहले नंबर पर है बर्ट सटक्लिफ का नाम, जिन्होंने  जोहान्सबर्ग में दक्षिण अफ्रीका बनाम न्यूजीलैंड के बीच खेले गए मुकाबले में अपनी देश के प्रति खेलकर ये साबित कर दिया की इनका अपने देश के प्रति कितना प्यार है। सन 1953-54 का अब तक के सबसे भावनात्मक क्रिकेट(Cricket) मैचों में से एक था। जहां दक्षिण अफ्रीका ने 132 रन से मैच जीता, लेकिन जोहान्सबर्ग में वे दुर्भाग्यपूर्ण टेस्ट तब से क्रिकेट के मैदान पर साहस का मिसाल बन गया है।

न्यूजीलैंड में एक दुखद ट्रेन दुर्घटना की खबर आई, जिसने युवा कीवी क्रिकेटर बॉब ब्लेयर के मंगेतर की जान ले ली। इस बीच, एडकॉक और आयरनसाइड में तेज बाउंसरों में से एक ने अपने सिर के किनारे पर नए पहुंचे बर्ट सटक्लिफ को मारा। सटक्लिफ गिनती के लिए नीचे था और उसे अस्पताल ले जाना पड़ा। हालांकि उन्हें पूरी तरह से आराम करने की सलाह दी गई और उन्हें वापस मैदान पर भेज दिया गया। वहीं अपने साथी न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों को नाइनपिन की तरह गिरते हुए देखकर, सटक्लिफ ने अपनी पारी को फिर से शुरू करने का फैसला किया।

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse