IPL से पहले UAE में मैच फिक्सिंग की वजह से 2 खिलाड़ी सस्पेंड
//

IPL से पहले UAE में मैच फिक्सिंग की वजह से 2 खिलाड़ी सस्पेंड

क्रिकेट को जेंटलमैन का गेम कहा जाता है। लेकिन हालिया वर्षों में ऐसे कई मौके आए हैं, जब इस खेल पर फिक्सिंग की काली छाया पड़ी है।

दुबई- क्रिकेट को जेंटलमैन का गेम कहा जाता है। लेकिन हालिया वर्षों में ऐसे कई मौके आए हैं, जब इस खेल पर फिक्सिंग की काली छाया पड़ी है। ताजा मामला यूएई का है। जहां दो खिलाड़ियों को आईसीसी के नियम तोड़ने के कारण निलंबित कर दिया है। आईसीसी के एंटी करप्शन नियमों को तोड़ने के कारण यूएई के इन दोनों खिलाड़ियों को सस्पेंड किया है। अमीरात क्रिकेट बोर्ड ने अशफाक अहमद और आमिर हयात को सस्पेंड किया है। यूएई के इन दोनों खिलाड़ियों ने आईसीसी एंटी करप्शन की कुछ धाराओं का उल्लंघन किया है।

भ्रष्टाचार निरोधक संहिता के उल्लघंन के दोषी पाए गए हैं खिलाड़ी

यूएई क्रिकेट टीम के दो खिलाड़ी अशफाक अहमद और आमिर हयात को आईसीसी ने सस्पेंड किया है। इन दोनों ही क्रिकेटर पर आईसीसी के भ्रष्टाचार निरोधक संहिता के उल्लघंन का दोषी मानते हुए तत्काल प्रभाव से अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया है। आईसीसी ने बताया है कि अशफाख और आमिर को 14 दिनों का समय दिया गया है, अपने पक्ष में जवाब देने के लिए।

अगर उनका जवाब संतोषजनक नहीं होगा तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। आईसीसी ने यूएई के इन दोनों खिलाड़ियों के खिलाफ एंटी करप्शन नियमों को तोड़ने के लिए पांच मामलों में दोषी पाया है। वहीं काउंसिल इन खिलाड़ियों पर लगे आरोपों के बारे में आगे कोई भी टिप्पणी नहीं करेगी।

इससे पूर्व आईसीसी कई खिलाड़ियों पर कर चुका कार्रवाई

आईसीसी ने भ्रष्टाचार और फिक्सिंग को लेकर कड़ा रुख अपनाया है। बांग्लादेश के ऑल राउंडर शाकिब अल हसन को भी फिक्सरों की जानकारी साझा नहीं करने के कारण एक साल के लिए बैन कर दिया था। वहीं इससे पूर्व संयुक्त अरब अमीरात के तीन खिलाड़ी मोहम्मद नवीद, शैमान अनवर और कादर अहमद को आईसीसी ने सस्पेंड कर दिया था।

इन तीनों ही खिलाड़ियों को एंटी करप्शन के 13 नियमों को तोड़ने के लिए सजा दी गई थी। वहीं दूसरी ओर आईसीसी ने ओमान के खिलाड़ी यूसुफ अब्‍दुलरहीम अल बालुशी पर मैच फिक्‍स की कोशिशों में संलिप्त रहने के लिए क्रिकेट के सभी प्रारूपों से सात साल के लिये प्रतिबंधित किया था।