वायुसेना में राफेल की एंट्री से MS धोनी उत्साहित, कही ये बात
//

वायुसेना में राफेल की एंट्री से एमएस धोनी उत्साहित, ट्वीट कर कही ये बात

फ्रांस से खरीदे गए अत्याधुनिक राफेल लड़ाकू विमान आज औपचारिक रूप से भारतीय वायुसेना में शामिल हो गए हैं। पांच राफेल विमानों को अंबाला एयरबेस पर 17 स्कवॉड्रन 'गोल्डन ऐरोज' में शामिल किया गया है।

नई दिल्ली- फ्रांस से खरीदे गए अत्याधुनिक राफेल लड़ाकू विमान आज औपचारिक रूप से भारतीय वायुसेना में शामिल हो गए हैं। पांच राफेल विमानों को अंबाला एयरबेस पर 17 स्कवॉड्रन ‘गोल्डन ऐरोज’ में शामिल किया गया है। इस मौके पर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी ने भी एयरफोर्स को बधाई दी है। धोनी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया है कि, जंग में खुद को साबित कर चुके दुनिया के सर्वश्रेष्ठ 4.5 जनरेशन के लड़ाकू विमानों के शामिल होने के साथ ही इन्हें दुनिया के सबसे बेहतरीन फाइटर पायलट भी मिल गए हैं।

हमारे काबिल पायलटों के हाथों और भारतीय वायु सेना के अलग-अलग विमानों के बीच इस विमान की ताकत और ज्यादा बढ़ेगी। बता दें एमएस धोनी क्रिकेटर होने के अलावा भारतीय सेना लेफ्टिनेंट कर्नल के पद पर भी हैं। बीते साल वर्ल्ड कप 2019 के बाद उन्होंने कुछ समय के लिए जम्मू-कश्मीर में अपनी सेवा दी थी।

सुखोई 30 MKI को बताया अपना पसंदीदा

धोनी ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, 17 स्कवॉड्रन ‘गोल्डन ऐरोज’ को बहुत-बहुत बधाई देता हूं और हम सभी उम्मीद करते हैं कि राफेल अपनी सर्विस से मिराज 2000 का भी रेकॉर्ड तोड़ देगा लेकिन सुखोई 30 MKI ही मेरा पसन्दीदा रहेगा और लड़कों को सुपर सुखोई के अपडेट होने तक डॉगफाइट के लिए नए टारगेट मिलेंगे।

आपको बता दें कि महेंद्र सिंह धौनी को सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल पद पर मानद उपाधि दी गई है। इसके अलावा 2011 में उन्हें इंडियन टेरिटोरियल आर्मी में लेफ्टिनेंट कर्नल की रैंक भी दी गई थी। धौनी इसके लिए कई बार अभ्यास भी कर चुके हैं।

दोनों देशों के रक्षा मंत्री मौजूद रहे समारोह में

अंबाला एयरबेस पर राफेल के इंडक्शन समारोह में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ फ्रांस की रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ली भी मौजूद रहीं। आपको बता दें कि पाकिस्तान और चीन के साथ तनाव के मद्देनजर राफेल की मौजूदगी अब और भी अहम हो गई है। क्योंकि राफेल में चीन और पाकिस्तान को मात देने की पूरी क्षमता है।