महेंद्र सिंह धोनी के ये 5 रिकॉर्ड तोड़ना हैं सबसे मुश्किल
//

महेंद्र सिंह धोनी के ये 5 रिकॉर्ड तोड़ना हैं सबसे मुश्किल

महेंद्र सिंह धोनी भारत के एक महान खिलाड़ी और कप्तान रहें हैं और महेंद्र सिंह धोनी दुनिया के एक महान विकेटकीपर बल्लेबाज खिलाड़ी भी हैं. महेंद्र सिंह धोनी ने भारत के लिए काफी कुछ कमाल का प्रर्दशन किया है और उनके योगदान को भारतीय क्रिकेट कभी नहीं भूल सकता.
महेंद्र सिंह धोनी के नाम कुछ ऐसे रिकॉर्ड शामिल हैं जिनको तोड़ना काफी मुश्किल काम हैं. आज हम आपको कुछ ऐसे ही रिकॉर्ड बताएंगे जिसे तोड़ना असंभव हैं.

5. आईसीसी के तीनों ट्रॉफी जीतना

महेंद्र सिंह धोनी दुनिया के सिर्फ एक मात्र ऐसे कप्तान हैं जिन्होंने बतौर कप्तान, वनडे विश्वकप, टी ट्वेंटी विश्वकप और चैंपियंस ट्रॉफी जीती हैं. दुनिया का दूसरा कोई भी कप्तान ये कारनामा नहीं कर पाया है और इस रिकॉर्ड को तोड़ना काफी असंभव काम हैं.

4. आईपीएल में सबसे ज्यादा कैच और स्टंप

महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल इतिहास के सबसे सफल विकेटकीपर हैं. महेंद्र सिंह धोनी ने आईपीएल इतिहास में कैच और स्टंपिंग मिलाकर कुल 132 डिसमिसल किए हैं जो आईपीएल का रिकॉर्ड हैं. अब महेंद्र सिंह धोनी और कितने आईपीएल खेलेंगे ये देखना दिलचस्प हैं, लेकिन तब तक ये रिकॉर्ड महेंद्र सिंह धोनी के नाम पर ही रहेगा.

3. बतौर कप्तान सबसे ज्यादा छक्के

महेंद्र सिंह धोनी छक्के लगाने के लिए काफी माहिर माने जाते हैं और उनके जैसे छक्के काफी कम बल्लेबाज लगाते हैं. महेंद्र सिंह धोनी ने अपने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट करियर के तीनों फॉर्मेट में मिलाकर बतौर कप्तान 200 से ज्यादा छक्के लगाए हैं और बतौर कप्तान सबसे ज्यादा छक्के लगाने के मामले में उनका ये रिकॉर्ड तोड़ना असंभव है.

2. आईपीएल में आखिरी ओवर में सबसे ज्यादा रन

महेंद्र सिंह धोनी जैसा फिनिशर कोई नहीं है ये एक सच्चाई हैं. महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल के एक महान बल्लेबाज हैं और उन्होंने चेन्नई सुपर किंग्स को आईपीएल में काफी मैच जिताएं हैं. मैच के 20 वे ओवर में महेंद्र सिंह धोनी जैसी बल्लेबाजी कोई नहीं कर पाता और 20 वे ओवर में आईपीएल इतिहास में कुल मिलाकर सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड महेंद्र सिंह धोनी के नाम शामिल हैं और ये रिकॉर्ड तोड़ना असंभव है.

1. वनडे में बतौर विकेटकीपर सबसे ज्यादा स्कोर

वनडे क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी का सर्वाधिक स्कोर 183 रन हैं जो उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ बनाया था. बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज वनडे क्रिकेट में ये एक रिकॉर्ड हैं जिसे आज तक कोई भी विकेटकीपर बल्लेबाज उनके आस पास भी नहीं हैं. महेंद्र सिंह धोनी का ये रिकॉर्ड तोड़ना काफी मुश्किल काम हैं.