बेटा निकला नामर्द तो ससुरालवालों ने बहू को जलाया जिंदा, जांच में जुटी पुलिस
/

बेटा निकला नामर्द तो ससुरालवालों ने बहू को जलाया जिंदा, जांच में जुटी पुलिस

पटना: इस कलयुगी दुनिया में आज भी हर कमी का दोष सिर्फ महिलाओं को दिया जाता है. हमारे इस पुरुष समाज में रोजाना पति, बेटे, भाई की कमियों को नजरंदाज कर दिया जाता है या फिर उनकी कमियों को महिलाओं पर थोप दिया जाता है. अभी हाल ही में बिहार के मुजफ्फरपुर में शादी के करीब डेढ़ साल बाद ही नवविवाहिता की हत्या कर दी गई है. इस हत्या का आरोप मृतका के ससुरालवालों समेत पति पर लगाया है.

ससुरालवालों पर आरोप है कि शादी के बाद ही उन्हें बच्चा चाहिए था. लेकिन बच्चे होने की खुशी नहीं देने की वजह से घरवालों ने जिंदा जलाकर मार डाला. वहीं मृतका के पिता का कहना है कि कमी मेरे दामाद में थी, लेकिन बच्चा न होने का नतीजा मेरी बेटी को जान देकर भुगतना पड़ा.

बता दें यह घटना अहियापुर थाना के नाजिरपुर की है. हालांकि पुलिस ने इस मामले में आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है जबकि मृतका की सास और ससुर से पूछताछ की जा रही है. पुलिस भी पहली नजर में ही इसे हत्या का केस बता रही है. जानकारी के मुताबिक सीतामढी निवासी बलराम दास की बेटी अल्पना की शादी पिछले साल यानी 2019 में 19 फरवरी को मुजफ्फरपुर के नाजिरपुर निवासी प्रमोद ठाकुर के इंजीनियर बेटे गौरव ठाकुर से हुई थी. बलराम दास अयोध्या में साधु हैं लेकिन ये शादी बड़े ही धूमधाम से हुई थी.

पत्नी ने पति को बताया नामर्द

वहीं शादी के तुरंत बाद ससुराल वाले बच्चा चाहते थे,लेकिन लगभग साल भर बाद भी बच्चा नहीं होने से घर में कलह की स्थिति थी. अल्पना के ससुराल वाले उसे ताना देने लगे, लेकिन अल्पना ने अपने माता-पिता को बताया कि उसका पति गौरव पिता बनने लायक नही है. अल्पना के पिता बलराम दास ने जब यह बात गौरव के परिवार में उठाया तो घर में बवाल मच गया. जिसके बाद सभी लोग अल्पना को डांटने लगे.

ये भी पढ़ें:अफगानिस्तान के हेलमंद में 2 सैन्य हेलिकॉप्टरों में हुई टक्कर, 15 की मौत…

बता दें सोमवार की रात को अल्पना के पिता के सामने ही गौरव के नामर्द होने के सवाल पर उस समय हंगामा हो गया जब उन्होनें गौरव को डॉक्टरी इलाज कराने की सलाह दी. पिता बलराम दास ने आरोप लगाया है कि गौरव के परिवार वालों नें अल्पना को जलाकर मार डाला है. इतना ही नहीं अल्पना के पिता ने कहा की उसे पहले बेहोश किया गया और फिर जला दिया गया.

हालांकि मौके पर पहुंची अहियापुर पुलिस नें शव का इन्क्वेस्ट रिपोर्ट बनाकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और आरोपी पति गौरव को गिरफ्तार कर लिया.

गौरव के गिरफ्तार होने के बाद पुलिस ने उनके माता पिता से भी पूछताछ कर रही है. लेकिन  गौरव और उसके माता-पिता ने पुलिस से कहा कि पारिवारिक विवाद के चलते अल्पना ने खुद को जला लिया. इतना ही नहीं परिवार ये भी कहा कि हम में से किसी ने अल्पना को चीखते चिल्लाते नहीं देखा. वहीं अहियापुर पुलिस ने कहा है कि सभी बिन्दुओं पर छानबीन की जा रही है. जल्द ही इस वारदात के सभी पहलु सामने आ जाएंगे.