हाथरस केस में नया मोड़, पीड़ित परिवार के इस कदम से सरकार हैरान
/

हाथरस कांड में नया मोड़, पीड़ित परिवार ने चश्मदीद गवाह को पहचानने से किया इनकार

हाथरस में हुये घटना की सीबीआई जांच में लगातार पूछताछ और छानबीन शुरू है। वही सीबीआई की टीम शनिवार को फिर से उस लड़की के घर पर पहुची ,जिसके बाद घटनास्थल पर जा कर सीबीआई की टीम ने निरीक्षण किया। फिर वहां से जिस लड़की के साथ घटना घटी थी उसके परिवार के घर जा कर लगभग पाँच घंटे तक पूछताछ की ।

वहीं इस मामले में जाँच कर रही है सीबीआई टीम में इस मामले की जाँच कर रही डिप्टी एसपी सीमा पाहुजा भी शामिल थी।
जब टीम पहुची तो टीम उस जगह जा कर जाँच पड़ताल की जहाँ पर ये घटना घटी थी। जिसके कुछ देर बाद लड़की के घर पहुच गयी। और घर के सभी सदस्य के साथ बात चीत कर के पूछताछ शुरू की। वही घर के हर एक सदस्य से पूछताछ किया।

 

वही जब टीम ने लड़की के घर वाले से चश्मदीद गवाह छोटू के बारे में पूछा तो लड़की के घर वाले उसे पहचानने से इनकार कर दिया। वही बिटिया की भाभी का कहना है कि जब सीबीआई की टीम ने जो मोबाईल में फ़ोटो दिखाई थी उन्हें नही जानती है की वो कौन है।

सीबीआई ने लड़की के परिवार वालो से कई प्रकार के सवाल किये। वही परिवार वाले की माने तो सीबीआई सबसे पहले बिटिया के व्यवहार के बारे में पूछा। वही लड़की की भाभी से सीबीआई ने पूछताछ में ये सवाल किया कि क्या वह कोई अलग फोन इस्तेमाल किया करती थी , उसके बाद लड़की की भाभी ने बताया कि घर पर एक ही मोबाइल फोन था ।

 

जिसके बाद सीबीआई ने सवाल पे सवाल किए जो घटना और अन्य से सम्बंधित था। वही लड़की की माँ से काफी देर तक बाते की । जहाँ पर लड़की की भाभी मौजूद नहीं थी ।
वही जब सीबीआई ने जब मोबाइल में छोटू का फोटो दिखाया तब उसने फ़ोटो पहचानने से मना कर दि और कहि की इसे पहली बार देख रहे है।
वही परिजनों का कहना है कि सीबीआई से पूछताछ मामले में कोई दबाव महसूस नही की है। वही सीबीआई की टीम ने उस लड़की की कुछ कपड़ा साथ ले गयी है।

चिकित्साक से भी की पूछताछ

सीबीआई की टीम ने ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक रमेश बाबू के साथ साथ कई चिकित्सा कर्मी को बुला कर पूछताछ किया । जब सीबीआई की टीम जब पहुची तब गाव के लोग कुव्ह हरकत में आ गए जिसके बाद सीबीआई की टीम अपनी सुरक्षा कड़ा कर लिया।