विकास दुबे के फेक एनकाउंटर होने की खबरों के बीच अब डॉक्टर ने दिया बड़ा बयान

विकास दुबे के फेक एनकाउंटर होने की खबरों के बीच अब डॉक्टर ने खोली पोल, कही ये बात

विकास दुबे के एनकाउंटर के बीच की डेड बॉडी को लेकर अब हैलट अस्पताल के डॉक्टर ने बड़ा बयान दिया है।

गैंगस्टर विकास दुबे का एनकाउंटर हो गया है। यूपी पुलिस उसे भागते हुए गोली मारी है। पुलिस के मुताबिक ये मुठभेड़ थी लेकिन अब हर तरफ से नए-नए सवाल खड़े हो रहे हैं। लोग इस इसे फर्जी बता रहे। ऐसे में कानपुर के हैलट अस्पताल के डाक्टर ने विकास दुबे के एनकाउंटर पर एक बड़ा बयान दिया है।

डॉक्टर ने दिया बयान

कानपुर के जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर आरबी कमल ने पत्रकारों से कहा,

“विकास दुबे को चार गोलियाँ लगी थीं। तीन गोली सीने में और एक हाथ में। विकास दुबे को मरी हुई हालत में लाया गया था।”

डॉक्टर के इस बयान से नए सवाल खड़े हो रहे हैं।

फेक था ये एनकाउंटर ?

दरअसल एनकाउंटर में मुठभेड़ ऐसी कैसे हुई कि तीन गोली विकास के सीने पर ही लगी और उसे जान से ही मार दिया गया। पुलिस इसे उसकी भागने की कोशिश बता रही है, लेकिन हर तरफ इस बात का शोर उठने लगा है कि विकास दुबे का एनकाउंटर फेक है।

साजिश का अंदेशा

आपको बता दें पुलिस ने पहले जिस गाड़ी में विकास को बैठाया था वो टाटा सफारी थी। लेकिन जब एनकाउंटर हुआ तो गाड़ी महिन्द्रा टीयूवी पलटी हुई मिली सवाल है कि ये गाड़ी कब बदली गई और क्यों बदली गई। पत्रकारों की गाड़ियों को भी पहले काफी दूर रोक दिया गया था ये सभी बिंदु किसी बड़ी साज़िश की ओर इशारा कर रहे हैं।