पत्नी को सोता हुआ छोड़कर बच्चे को लेकर भागा पति
/

पत्नी को सोता हुआ छोड़कर बच्चे को लेकर भागा पति

वृन्दावन : पति और पत्नी के बीच अनबन होना, छोटी-छोटी बातों पर झगड़ा होना आम बात है. वहीं किसी का घर वालों के साथ भी लड़ाई हो जाती है. कई बार लड़ाई इतनी ज्यादा होती है कि लोग अपने फैमिली को लेकर अलग हो जाते हैं. तो आज के आर्टिकल में हम आपको ऐसे ही एक परिवार के बारे में आपको बताने जा रहे हैं जिनकी कहानी सुनकर आप सभी हैरान हो जाएँगे। एक पति-पत्नी के जोड़ें ने अपने परिवार वालों से झगड़ा किया और अपनी पत्नी और बच्चों के साथ घर छोड़ कर चला गया. इसके बाद एक दिन और रात गेस्ट हाउस में रहने के बाद अपनी पत्नी को उसी जगह पर छोड़ कर अपने बच्चों के साथ कही फरार हो गया.

सुबह आँख खुली तो बच्चा और पति दोनों कमरे में नहीं थे

दरअसल, घर से झगड़ा करके निकलने के बाद वो व्यक्ति अपनी पत्नी और बच्चों के साथ बेंगलुरु से मथुरा चला गया. जहाँ उसने एक गेस्ट हाउस में अपने परिवार के रहने की व्यवस्था की. रात में तो पूरा परिवार एक साथ सोया लेकिन जब पत्नी की सुबह आँख खुली तो अपने पति और बच्चों को वहां ना पाकर बहुत परेशान हो गयी. अपने आसपास ढूंढ़ने के बाद भी वो लोग कहीं भी नहीं मिले. अपने पति और बच्चे को ढूंढ़ने के क्रम में वो इस्कॉन टेम्पल के पास जा पहुंची। जहाँ उनकी मुलाकात इस्कॉन मंदिर के पदाधिकारी रवि लोचन दास से हो गई. पूरी घटना को सुनने के बाद रवि लोचन ने महिला को कोतवाली पुलिस तक पहुंचने में उनकी मदद की. जहाँ महिला ने अपने पति और बच्चे के मिसिंग होने की रिपोर्ट दर्ज कराई है और जल्द-से-जल्द उन्हें ढूंढने की प्रार्थना की है.

 

महेश की पत्नी रशियन है और 7 साल पहले दोनों की शादी बेंगलुरु में हुई थी

बता दें कि उस व्यक्ति का नाम महेश है और उसने रशियन लड़की से शादी की थी. दोनों का एक बच्चा हैं. महिला ने बताया कि उसकी शादी 7 साल पहले बेंगलोर में ही उनकी और महेश की शादी हुई थी. दोनों शादी के बाद परिवार वालों के साथ बहुत खुश थे लेकिन इन दिनों महेश और उनके घरवालों के बीच आपसी रिश्ते ठीक नहीं चल रहे थे. जिससे परेशान होकर महेश अपनी पत्नी और बच्चे को लेकर मथुरा वृन्दावन आ गए और यहाँ उन लोगों ने प्रेम मंदिर के पास ही के एक गेस्ट हाउस में ठहर गए.