उत्तर प्रदेश: गोरखपुर में भी दबंग हिस्ट्रीशीटर ने पुलिस वालों को दिनदहाड़े मारा, छीन ली बंदूके
कानपुर एनकाउंटर मामला सामने आने के बाद उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों से भी अपराधी द्वारा गंभीर रूप से पुलिस की पिटाई किए जाने का मामला सामने आ रहा है. ऐसा ही एक मामला गोरखपुर जिले से सामने आया है. हाल ही में गोरखपुर में भी हिस्ट्रीशीटर के घर दबिश देने के गईं पुलिस पर कई बार हमले हो चुके हैं।
खोराबार थाने के हिस्ट्रीशीटर नंगा निषाद व उसके बेटों ने इंस्पेक्टर सहित पुलिसकर्मियों पर दो बार हमलाकर मारा पीटा और बंदूकें भी लूट ली थीं। ये दोनों बाप-बेटे किसी भी मामले में कानपुर के कुख्यात अपराधी विकास दुबे से कम नहीं हैं।
19 जून 2020 को ही नंगा निषाद के हिस्ट्रीशीटर बेटों दयाशंकर निषाद व दिलीप निषाद ने सहारा इस्टेट में रहने वाले एक बड़े कारोबारी से गालीगलौज की और जान से मारने की धमकी दी। साथ ही कारोबारी के सिक्टौर स्थित 16 डिसमिल भूमि पर बनी बाउंड्रीवाल गिरा दी। यह मामला पुलिस के आला अफसरों तक पहुंचने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की गईं. इस वजह से सहारा इस्टेट में रहने वाले कारोबारी डरे हुए हैं। उनका कहना है कि हिस्ट्रीशीटर बड़ा नुकसान पहुंचा सकते हैं।
कानपुर में हुई घटना के बाद कुछ व्यापारियों ने सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी बात सरकार तक पहुँचाने की कोशिश की है. ताकि उनको इंसाफ मिल सके और खुलेआम घूम रहे अपराधी को सजा मिले. बता दें कि हिस्ट्रीशीटर नंगा निषाद व उसके बेटे इतने दबंग है कि पुलिस पर दो बार हमला कर चुके हैं.
 गौरतलब है कि कानपुर के चौबेपुर में हुई मुठभेड़ की चर्चा पूरे देश में हो रही है। ऐसे में अपराधी और पुलिस के बीच हुई कुछ घटनाएं भी सामने आ रही है. जिससे यह साफ मालूम होता है कि पुलिस पर हमेशा अपराधी हावी रहे हैं और गाहे-बगाहे नुकसान पहुंचाते रहे हैं. ऐसा क्यों है,  यह एक बड़ा सवाल है.

Leave a comment

Your email address will not be published.