विकास दुबे : ख़ुशी को पता था अमर दुबे बदमाश है इसीलिए की शादी

कानपुर के बिकरू कांड का मुख्य आरोपी विकास दुबे के एनकाउंटर में मारे जाने के बाद आए दिन नई बात सामने आ रही है। विकास के दुनिया को छोड़ने के बाद भी उसकी करतूत किसी से छिपी नहीं रही है। अब उसके गुर्ग के परिवार से जुड़ा चौंकाने वाला मामला सामने आया है। इस खुलासे के बाद पुलिस महकमें में हडकंप मच गया।

विकास दुबे का राइट हैंड कहे जाने वाले अमर दुबे की पत्नी खुशी ने काफी चौंकाने वाले खुलासे कर रही है। पुलिस ने अमर दुबे को एनकाउंटर में मार गिराया था। वहीं दूसरी ओर पुलिस महकमें का कहना है कि- अमर दुबे की पत्नि खुशी को मालूम था कि अमर दुबे कुख्यात बदमाश है, वो अपने पास हथियारों का जखीरा रखता है। इतनी ही नहीं, उसको अपने पति अमर की दंबगई को पसंद थी, इसकी वजह से उसने अमर दुबे से प्यार किया फिर उसके साथ बड़े धूमधाम से शादी रचाई।

पुलिस ने अमर की पत्नि खुशी को जेल की सलाखों के पीछे भेजा

विकास दुबे : ख़ुशी को पता था अमर दुबे बदमाश है इसीलिए की शादी

आपकों बताते चलें कि – बिकरू पुलिस कांड से महज तीन दिन पहले 29 जून को अमर दुबे ने पनकी की रहने वाली खुशी के साथ शादी की थी। शादी के तीन दिन बितने के बाद बिकरू गांव में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या की गई। हालांकि, पुलिस- प्रशासन ने अमर की पत्नि को साजिश रचने के आरोप में जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया था। इसके बाद में पुलिस महकमें पर ही भी लगातार ये सवाल खड़े किए जा रहे थे कि- क्यों खुशी को गिरफ्तार किया गया?

इसके बाद में पुलिस ने खुशी को गिरफ्तार कर जेल भेजने की गलती स्वीकार की और उसको जल्द जेल से रिहा करने की प्रकिया शुरू की, लेकिन फिर अचानक पुलिस द्वारा उसको जेल से रिहा करने की प्रक्रिया को बीच में ही रोक दिया गया।

इस मामले की जांच कर रहे दधिबल तिवारी ने बताया कि- जांच में ये बात सामने आई है कि- शादी करने से पहले अमर और खुशी करीब डेढ़ साल से एक-दूसरे को जानते थे। इन दोनों की सोशल मीडिया के प्लेटफॉर्म फेसबुक के जरिए फ्रेंडशिप हुई। फिर धीरे- धीरे दोस्ती प्यार में बदल गई।

अमर दुबे के ससुराल वालों ने पुलिस को किया गुमराह

विकास दुबे : ख़ुशी को पता था अमर दुबे बदमाश है इसीलिए की शादीइतना ही नहीं वो ये भी जानती है कि उसका पति कुख्यात बदमाश विकास दुबे के लिए काम करता था। खुशी, अमर और विकास दुबे की क्राइम की दुनिया के बारे में अच्छी तरह से जानती थी। जिसके बाद पुलिस ने मन में ठान लिया था कि उसको जेल से न छोड़कर आरोपी बनाना है।

अमर दुबे के सुसराल वाले ने पुलिस को गलत बयान देकर गुमराह किया है। उन्होंने कहा कि- कुख्यात बदमाश विकास ने जबरस्ती ये शादी कराई थी। वहीं दूसरी ओर पुलिस के मुताबिक, अमर और खुशी दुबे की शादी दोनों परिवारों की सहमति के बाद कराई गई। पुलिस ने इस मामले में कुछ गांव वाले बयान दर्ज कर लिए है।इसी के आधार पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है।

Leave a comment

Your email address will not be published.