बयान से पलटी ऋचा दुबे, पुलिस नहीं मारती तो मै खुद मार देती

विकास को उसके कर्मो की सजा मिली, अगर पुलिस नहीं मारती तो मै खुद मार देती: ऋचा दुबे

कानपुर एनकाउंटर मामले में मारे गए हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे का दोहरा चेहरा सबके सामने आ गया है। एक ओर जहां वह विकास के अंतिम संस्कार के दौरान मीडिया कर्मियों पर चिल्लाते हुए बोला था कि पति की मौत का बदला लूंगी, तो अब पति को दोषी ठहराते हुए उसके कृत्यों को बुरा कह रही है।

मीडिया से बातचीत के दौरान गुरुवार को उसने खुलकर कहा कि अगर पुलिस विकास को नहीं मारती तो  वह खुद ही उसे मार देती। ऋचा ने अपने पति विकास के साथ संबंधों पर भी खुलकर बात करते हुए बताया कि शादी के दो साल बाद ही वह पति के बुरे कर्मों के कारण उससे अलग रहने लगी थी। आखिर ऋचा अब अपने बयान क्यों पलट रही है यह भी एक बड़ा सवाल है। उधर, पुलिस और एसटीएफ की टीम ने बिकरू कांड में वांछित चल रहे शिवम दुबे को चौबेपुर के पास से ही गुरूवार को गिरफ्तार कर लिया।

यह थी घटना…

गौरतलब है कि दो जुलाई की रात पुलिस और हिस्ट्रीशीटर विकास के बीच हुई मुठभेड़ में विकास ने एक सीओ सहित आठ पुलिस कर्मियों को मौत के घाट उतार दिया था। इस बहुचर्चित बिकरू कांड में पुलिस और एसटीएफ लगातार मोर्चा संभाले हुए हैं। इस बीच घटना के 22 दिन बीत जाने के दौरान पुलिस मुठभेड़ में जहां विकास और उसके कई साथी मारे गए तो कई गिरफ्तार हुए हैं। इस दौरान कई ऑडियो औऱ वीडियो वायरल होने के बाद परिवार की महिलाओं की भूमिका भी संदेह के घेरे में है।

गिरफ्तार शशिकांत की पत्नी मनु पांडेय से भी पुलिस ने पूछताछ की है। इसी कड़ी में ऋचा से हुई पूछताछ मे उसने विकास दुबे के कृत्यों को खोल कर रख दिया।

ऋचा बोली माफी के काबिल नहीं था विकास

ऋचा ने कहा कि विकास दुबे ने जो कृत्य किया था वह माफी के काबिल नहीं था। मैं भी होती तो मैं उसे गोली मार देती। मुझे देश के न्याय प्रणाली पर पूरा भरोसा है, जो हुआ और आगे जो होगा उस पर मैं पूरा विश्वास करती हूं। ऋचा दुबे ने कहा कि मेरी संवेदना शहीद पुलिसकर्मियों के परिवार के साथ है। मैं विकास के कृत्यों के लिए उनसे माफी मांगती हूं।

उसकी सजा मुझे और परिवार को न दें, जय को मैं नहीं जानती

ऋचा ने कहा कि विकास दुबे ने जो किया उसकी सजा मुझे या मेरे परिवार को ना दी जाए। अब हम परिवार और बच्चों के साथ खुश रहना चाहते हैं। जय बाजपेई से विकास दुबे के संबंधों के बारे में जब ऋचा से पूछा गया तो उसने कहा मैं उसे बहुत अच्छे से नहीं जानती और न ही मेरी उससे कोई खास मुलाकात है। एक बार वह मुझे जिला पंचायत सदस्य के चुनाव में मिला था। मेरी विकास के करीबी किसी भी व्यक्ति से कोई बातचीत नहीं होती थी। विकास के करोड़ों की संपत्ति के सवाल पर रिचा बोली, अगर मेरे परिवार के पास करोड़ों की संपत्ति होती तो मैं 1600 स्क्वायर फीट के मकान में नहीं रहती। मैं भी अपने परिवार के साथ विदेश में मकान लेकर रह रही होती।

मामी ने खोले विकास के कई राज

एनकाउंटर में मारे गये विकास दुबे के मामा प्रेम प्रकाश पांडेय की पत्नी सुषमा जो कि काफी बुर्जुग हैं और वह बिस्तर से उठ भी नहीं सकतीं, ने घटना के कई दिन बाद विकास से जुड़े कई राज खोले हैं।

उन्होंने बताया कि घटना की रात उनके घर में पुलिस कूदे थे. इस पर उन्होंने पूछा था कि कौन है, लेकिन आवाज नहीं आई। कुछ देर बाद गोली की आवाज आई और सन्नाटा पसर गया। अमर दुबे ने पुलिस को गाली देते हुए कहा था कि दबंग का एनकाउंटर करने आए हो तो अंजाम भुगतना पड़ेगा। वह शायद पुलिस अधिकारी थे.