उत्तर प्रदेश फिर गोलियों से गूंजा, एक ही परिवार के पांच लोगों को गोली मारी
/

उत्तर प्रदेश फिर गोलियों से गूंजा, एक ही परिवार के पांच लोगों को गोली मारी, तीन की मौत

कासगंज के एक गांव में पुरानी रंजिश को लेकर हमलावरों ने एक ही परिवार के पांच लोगों को गोली मार दी।

उत्तर प्रदेश में अपराधियों के हौंसले बुलंदी पर हैं। कानपुर कांड को एक माह भी न बीता था, लगातार अपराधियों के एनकाउंटर के बावजूद जिला कासगंज के एक गांव में पुरानी रंजिश को लेकर हमलावरों ने एक ही परिवार के पांच लोगों को गोली मार दी। इनमें से तीन की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दो की हालत गंभीर है। घायलों को अस्पताल भेजा गया है जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।

दोनों पक्षों के बीच पहले से चली आ रही थी रंजिश

तनाव को देखते हुए कई थानों की पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गई है। हत्याकांड की जानकारी देते हुए कासगंज के एसपी सुशील घुले ने बताया कि थाना सोरों क्षेत्र के गांव होडलपुर से पुलिस को सूचना मिली थी कि इस गांव के अंदर गोलीबारी हुई है। इससे पहले इन दोनों पक्षों के बीच पहले से रंजिश चली आ रही थी। उसी रंजिश को लेकर पहले दोनों पक्षों में झगड़ा हुआ और उसके बाद फायरिंग हुई। मृतकों के नाम- रुद्र, प्रेम सिंह, राधाचरण। वहीं प्रमोद ओर गुड्डू घायल हुए हैं जिन्हें अलीगढ़ इलाज के लिए भेजा गया है।

शवों को नहीं उठाने दे रहे परिवारीजन

तीन लोगों की मौत के बाद पीड़‍ित का परिवार गुस्‍से में है और शवों को नहीं उठाने दे रहे हैं। पीड़ित परिवार का कहना है कि जब तक दोषियों की गिरफ्तारी नहीं हो जाती तब तक वो शव नहीं उठने देंगे। इसलिए मौके पर भारी तादाद में फोर्स मौजूद है। पुलिस की सभी टीमों को गोलीबारी करने वाले अभियुक्तों के खिलाफ गिरफ्तार करने के लिए लगा दी गई हैं। जिससे कि जल्द से जल्द अभियुक्तों की गिरफ्तारी हो सके। क्षेत्र में 3 हत्या होने से तनाव का माहौल बना हुआ है।

इसी महीने कानपुर में हो चुकी बड़ी घटना

प्रदेश में अपराध थमने का नाम नहीं ले रहे। 2 जुलाई की रात जब एक अपराधी विकास दुबे को पकड़ने के लिए पुलिस टीम गई थी तो अपराधियों ने गोलीबारी कर 8 पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी। 10 जुलाई को विकास दुबे को मध्य प्रदेश के उज्जैन में गिरफ्तार किया गया था।

यूपी पुलिस द्वारा उज्जैन से कानपुर लाते अचानक गाड़ी पलटने से विकास दुबे ने रिवाल्वर छीन पुलिस को गोली मारकर भागने का प्रयास किया था। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने विकास दुबे को ढेर कर दिया था।

अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर साधा निशाना


इस बीच कासगंज में सनसनीखेज ट्रिपल मर्डर पर राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने योगी आदित्यनाथ सरकार की नाकामी पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, कासगंज जिले में एक ही परिवार के 3 लोगों की हत्याओं से प्रदेश दहल गया है। हत्यारों के फरार होने की खबर है। उत्तर प्रदेश में धारावाहिक आपराधिक घटनाओं को देखकर लगता है कि प्रदेश की बागडोर अब शायद भाजपा सरकार के हाथ से निकलकर बदमाशों के हाथों में चली गई है।