Next Season Of Asia Cup Will Be In T20 Format

Asia Cup: एशियाई महाद्वीप में होने वाले सबसे बड़े क्रिकेट आयोजन यानि एशिया कप (Asia Cup) से जुड़े कुछ बड़े ऐलान अगले कुछ दिनों में हो सकते हैं। इंडोनेशिया की राजधानी बाली में एशियाई क्रिकेट परिषद की वार्षिक आम बैठक (एजीएम) होने वाली है, जिसमें एशियाई क्रिकेट के भविष्य को लेकर काफी अहम होने वाला हैं। इस बैठक में एशिया कप अगले सीजन के आयोजन स्थल और फॉर्मेट पर भी फैसला लिया जाना है।

हालांकि, इसी बीच कुछ रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि अगला एशिया कप (Asia Cup) टी20 प्रारूप में खेला जाएगा। वहीं, इसकी मेजबानी के लिए दो देशों के नाम भी सामने आए हैं। आइये आपको पूरी खबर की विस्तार से जानकारी देते हैं।

आगामी एजीएम में लिए जाएंगे अहम फैसले

Acc
Acc

एशियाई क्रिकेट परिषद (ACC) की वार्षिक आम बैठक 31 जनवरी को बाली में होने वाली है, जिसमें एशिया कप (Asia Cup) के अगले सीजन को लेकर कुछ फैसले होने हैं। इस बैठक में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड और एशियाई क्रिकेट परिषद के अध्यक्ष जय शाह सहित उपमहाद्वीपीय एसोसिएशन के सभी सदस्य उपस्थित रहेंगे।

इसी बीच क्रिकबज ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि पिछला टूर्नामेंट वनडे प्रारूप में आयोजित हुआ था। ऐसे में अगला टूर्नामेंट टी20 प्रारूप में खेला जाएगा। इसके अलावा मेजबानी के लिए संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और ओमान जैसे देश शामिल हैं।

यह भी पढ़ें : अकेले 100 के बराबर है ये एक खिलाड़ी, टीम इंडिया को हर मैच जीताने का रखता है दम, लेकिन अगरकर-द्रविड़ चाहकर भी नहीं देंगे मौका

ख़िताब की रक्षा करेगा भारत

Team India
Team India

एशिया कप (Asia Cup) के पिछले सीजन की मेजबानी पाकिस्तान के पास थी, लेकिन सुरक्षा संबंधी कारणों के चले भारतीय टीम पाकिस्तान नहीं जा पाई। इसके बाद पाकिस्तान और श्रीलंका से संयुक्त रूप से टूर्नामेंट की मेजबानी की। एशिया कप 2023 में भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन दिखाते हुए फाइनल में मेजबान श्रीलंका को 10 विकेट से करारी शिकस्त दी थी। पूरे टूर्नामेंट में नीली जर्सी वाली टीम को केवल एक हार बांग्लादेश के खिलाफ मिली।

गौरतलब है कि भारत ने सर्वाधिक 8 बार एशिया कप का ख़िताब जीता है, जबकि श्रीलंका ने 6 बार ट्रॉफी अपने नाम की। वहीं, पाकिस्तान को 2 बार चैंपियन बनाने का सौभाग्य मिला है।

यह भी पढ़ें : टीम इंडिया में इस खिलाड़ी की उल्टी गिनती हुई शुरू, भरी जवानी में अब संन्यास के अलावा नहीं बचा कोई चारा