एम्बुलेंस ड्राईवर का सुशांत केस में बड़ा खुलासा, पहले बोला नानावटी फिर कहा कूपर हॉस्पिटल चलो

मुम्बई- सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या के मामले में अब एक नया खुलासा हुआ है। सुशांत की डेड बॉडी को जिस एंबुलेंस में ले जाया गया था उस एंबुलेंस ड्राइवर ने ये खुलासा किया है कि जब वो लोग एक्टर के फ्लैट पर पहुंचे तो उनकी बॉडी पहले से ही कपड़े से लिपटी हुई थी। वो लोग पहुंचे और सुशांत की बॉडी को सिर्फ स्ट्रेचर पर लिटाया और एंबुलेंस के अंदर रख दिया।

सुशांत सिंह राजपूत केस में हर रोज एक नया खुलासा हो रहा है। मुंबई पुलिस केस की छानबीन में जुटी है। वहीं, बिहार पुलिस ने भी इस केस में अपना हाथ डाल लिया है। सुशांत के पिता केके सिंह ने पटना में रिया चक्रवर्ती के खिलाफ एफआईआर की है। हाल ही में सुशांत के एम्बुलेंस ड्राइवर ने नई चीजें बताई हैं।

पहले बोला नानावटी फिर कहा कूपर हॉस्पिटल चलने को

एम्बुलेंस ड्राईवर का सुशांत केस में बड़ा खुलासा, पहले बोला नानावटी फिर कहा कूपर हॉस्पिटल चलो

एंबुलेंस के ड्राइवर शाहनवाज अब्दुल करीम ने इन सारी बातों का खुलासा किया है। बातचीत में शाहनवाज ने बताया कि जब पहुंचे तो सुशांत की बॉडी पहले से नीचे उतरी हुई थी और सफेद कपड़े में लिपटी हुई थी। पुलिस वालों ने उनके फोटो खींचे, फिर हमने उनकी बॉडी को नीचे उतारा और एंबुलेंस में रख दिया। पहले वो लोग बोल रहे थे कि नानावटी हॉस्पिटल चलना है, लेकिन फिर हम से कहा गया कि कूपर हॉस्पिटल चलना है।

पीएम रिपोर्ट में नहीं हुई छेड़छाड़

डॉक्टर पिनाकिन बी, कूपर हॉस्पिटल के डीन का कहना है कि सुशांत की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से कोई छेड़छाड़ नहीं की गई है। यह एक सरकारी अस्पताल है जिसमें एक्टर का पोस्टमॉर्टम हुआ। रिपोर्ट के साथ छेड़छाड़ वाली बात गलत है। हमारे डिपार्टमेंट से ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है।

इसलिए बदली गई थी एम्बुलेंस

एंबुलेंस के मालिक राहुल ने बताया कि उस दिन एंबुलेंस क्यों बदली गई। राहुल ने बताया कि जिस दिन सुशांत ने सुसाइड की थी उस दिन वो गांव में थे, इसलिए उनके भाई अक्षय एम्बुलेंस लेकर सुशांत के घर पहुंचे थे।

अक्षय जब सुशांत के घर पहुंचे तो उनकी बॉडी पहले से ही नीचे उतरी हुई थी। जिसके बाद एंबुलेंस कर्मी उनकी बॉडी को स्ट्रेचर पर लिटाकर बिल्डिंग से नीचे उतार लाए। लेकिन एंबुलेंस के व्हीलचेयर में कुछ दिक्कत आने की वजह से सुशांत की बॉडी में उस एंबुलेंस में फिट नहीं हो रही थी, इसलिए राहुल ने अपनी दूसरी एम्बुलेंस बुलवाई और फिर रवाना हुए। वहीं ड्राइवर ने बताया कि उन्हें लगातार धमकी भरे कॉल आ रहे हैं। आपको बता दें कि सुशांत ने 14 जून को अपने घर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी।

Leave a comment

Your email address will not be published.