ये हैं Bollywood की ऐसी पांच फिल्में जिन्हें देश में 'इस्लामोफोबिक' किया गया करार, आप भी देंखे लिस्ट
ये हैं Bollywood की ऐसी पांच फिल्में जिन्हें देश में 'इस्लामोफोबिक' किया गया करार, आप भी देंखे लिस्ट
Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

बॉलीवुड (Bollywood) फिल्मों को समाज का आईना कहा जाता हैं। ऐसा ही अभिनेता अन्नू कपूर की अपकमिंग फिल्म ‘हम दो हमारे बाराह’ के पोस्टर को देख कर लग रहा हैं। जो इस समय सोशल मीडिया पर छाया हुआ हैं। दरअसल अभिनेता अन्नू कपूर की फिल्म ‘हम दो हमारे बाराह’ का पोस्टर 5 अगस्त को रिलीज किया गया था। जिसे देख कर साफ तौर पर जाहिर हो रहा था कि, फिल्म में अन्नू एक मुस्लिम परिवार के मुखिया की भूमिका अदा कर रहे हैं और उनके 11 बच्चें हैं। जबकि उनकी पत्नी जल्द ही बारहवें बच्चे को जन्म देने वाली हैं। कमल चंद्र द्वारा निर्देशित इस फिल्म को भारत में मुस्लिमों के जनसंख्या विस्फोट पर एक बड़ा विवादित मुद्दा कहा जा रहा हैं। 

दरअसल फिल्म ‘हम दो हमारे बाराह’ का पोस्टर सामने आने के बाद से ही मुस्लिम समुदाय में रोष देखने को मिल रहा हैं। पोस्टर से साफ तौर पर जाहिर हो रहा हैं कि, फिल्म में ‘इस्लामोफोबिक’ होने और देश में मुसलमानों को ‘जनसंख्या विस्फोट का कारण बताया जा रहा हैं। ऐसे में कमल चंद्र और अन्नू कपूर की कड़े शब्दों में सोशल मीडिया के जरिये जमकर अलोचना हो रही हैं। वहीं मुस्लिम समुदाय के लिए आवाज उठाते हुए राणा अय्यूब ने ट्विटर का सहारा लिया हैं। 

बता दें कि ऐसा पहली बार नहीं हैं कि ‘इस्लामोफोबिक’ को लेकर बॉलीवुड (Bollywood) में कोई फिल्म बनाई गई हैं। बीते कुछ वर्षों में इस से पहले भी कई फिल्में बनाई जा चुकी हैं। जिनमें मुसलमानों और इस्लाम को गलत तरीके से दिखाया गया हैं। जिसकी वजह से देश में ‘इस्लामोफोबिक’ को लेकर विवाद जन्म ले चुके हैं। आज हम आपको इस लेख के जरिये बॉलीवुड की ऐसी ही पांच फिल्मों के बारे में बताने वाले हैं, जिन्होंने देश में विवाद को रूप लिया।

यह हैं वह 5 “इस्लामोफोबिक” फिल्में

1. द कश्मीर फाइल्स

 ये हैं Bollywood की ऐसी पांच फिल्में जिन्हें देश में 'इस्लामोफोबिक' किया गया करार, आप भी देंखे लिस्ट
ये हैं Bollywood की ऐसी पांच फिल्में जिन्हें देश में ‘इस्लामोफोबिक’ किया गया करार, आप भी देंखे लिस्ट
इस लिस्ट में पहले नंबर पर जिसका नाम आता हैं, वह हैं बॉलीवुड (Bollywood)  फिल्म “द कश्मीर फाइल्स।” विवेक अग्निहोत्री की यह फिल्म 1990 दशक के समय में हुए कश्मीरी पंडितों के पलायन और जुल्म पर आधारित हैं। साल 2022 की शुरूआत में रिलीज हुई इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर ताबड़तोड़ कमाई की थी। लेकिन फिल्म को अलोचनाओं का भी सामना करना पड़ा था। जहां समाज के कुछ वर्गों ने फिल्म को ‘इस्लामोफोबिक’ करार किया था। क्योंकि फिल्म में सिर्फ कश्मीरी हिंदुओं की दुर्दशा पर ही ध्यान केंद्रित किया गया था। जबकि कश्मीरी मुसलमानों को चित्रण समाज को गलत दिखाया गया था
Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse