राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सेवा कार्यों से विदेश राजदूत भी प्रभावित, ऑस्ट्रेलिया के उच्चायुक्त ने संघचालक मोहन भागवत से भेंट कर, की तारीफ

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ RSS मे को कोरोना काल में सेवा अभियान चलाया था, उससे ऑस्ट्रेलिया के भारत में उच्चायुक्त बैरी ओ फरेल एओ काफी ज्यादा प्रभावित हुए हैं और उन्होंने संगठन द्वारा किए गए सेवा कार्यों की जमकर तारीफ भी की है. ऑस्ट्रेलिया के भारत में हाई कमिश्नर बैरी ओ फरेल एओ रविवार को नागपुर संघ मुख्यालय पहुंचे और उन्होंने सरसंघचालक मोहन भागवत से भी भेंट की है. इसी दौरान उन्होंने संगठन के सेवा कार्य की सराहना की और साथ ही स्मृति मंदिर का भी दौरा किया.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सेवा कार्यों से विदेश राजदूत भी प्रभावित, ऑस्ट्रेलिया के उच्चायुक्त ने संघचालक मोहन भागवत से भेंट कर, की तारीफ

कार्यों के बारे में ली जानकारी

कोरोना वायरस जैसी महामारी के समय में आर एस एस के सेवा कार्यों से आस्ट्रेलिया के भारत में उच्चायुक्त संगठन के इस कार्य से बहुत ज्यादा प्रभावित हुए और सरसंघचालक मोहन भागवत से भेंट करने सीधा संघ के मुख्यालय पहुंच गए हैं. इसी मुलाकात के दौरान संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत ने हाई कमिश्नर बैरी ओ फरेल एओ को संघ के कार्यों के बारे में पूरी जानकारी दी है.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सेवा कार्यों से विदेश राजदूत भी प्रभावित, ऑस्ट्रेलिया के उच्चायुक्त ने संघचालक मोहन भागवत से भेंट कर, की तारीफ

चुनौती पूर्ण समय में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने किए राहत पूर्ण कार्य

ऑस्ट्रेलिया के उच्चायुक्त ने संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत से मुलाकात के बाद इस बारे में बात की. उन्होंने कहा कि, ” कोरोना वायरस के समय में आर एस एस हमेशा सक्रिय रहा, और कई तरह के सेवा कार्य भी किए हैं. मैंने संघ के प्रमुख से भेंट की है, जिन्होंने इस चुनौतीपूर्ण समय में कई राहत पूर्ण कार्य किए और साथ ही करोना काल को लेकर राहत के उपाय भी साझा किए”.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सेवा कार्यों से विदेश राजदूत भी प्रभावित, ऑस्ट्रेलिया के उच्चायुक्त ने संघचालक मोहन भागवत से भेंट कर, की तारीफ

विदेशी राजदूत और संघ के सर संघचालक मोहन भागवत की पहले भी हो चुकी है मुलाकात

खबरों की माने तो विदेशी राजदूत और संघ के सर संघचालक मोहन भागवत की एक बार पहले भी मुलाकात हो चुकी है. साल 2019 जुलाई के जर्मन राजदूत वाल्टर जे लिंडनर भी सरसंघचालक मोहन भागवत से भेंट कर चुके हैं. उनकी यह मुलाकात उस दौरान हुई थी जब जर्मन राजदूत नागपुर के संघ मुख्यालय के दौरे पर गए थे.

 

 

 

 

 

ये भी पढ़े:

दीपावली पर प्रियंका ने पहनी साड़ी तो लहंगे में दिखी अंकिता लोखंडे |

अर्नब गोस्वामी को 7 दिन में बेल, पर पत्रकार को 41 दिन बाद भी न्याय नहीं |

भारतीय टीम को टेस्ट चैम्पियनशिप जीतने के बस 2 मौके बचे हैं |

रेखा को जीवन में नही मिला पति का प्यार, पर इससे भी बड़ा दुःख इस बात का था |

नीतीश कुमार के अलावा ये 8 चेहरे भी ले सकते है मंत्री पद का शपथ, भेजी गई लिस्ट |

Urvashi Srivastava

मेरा नाम उर्वशी श्रीवास्तव है. मैं हिंद नाउ वेबसाइट पर कंटेंट राइटर के तौर पर...