मोहनभाई डेलकर

मुंबई के एक होटल में दादरा नगर हवेली के निर्दलीय लोकसभा सांसद मोहनभाई डेलकर का शव संदिग्ध हालत में बरामद हुआ है, पुलिस इस मामले की जांच में जुटी है, शुरुआती जांच में ये मामला सुसाइड का लग रहा है। मुंबई पुलिस के मुताबिक घटनास्थल से एक सुसाइड नोट भी मिला है। फिलहाल पुलिस जांच में जुटी हुई है।

खुदखुशी का लग रहा है मामला

मोहनभाई डेलकर

 

दादरा नगर हवेली के निर्दलीय लोकसभा सांसद मोहनभाई डेलकर का शव सोमवार को मुंबई के एक होटल में संदिग्ध हालत में मिला है। मुंबई पुलिस के एक अधिकारी ने बताया है कि सांसद का शव दक्षिणी मुंबई के मरीन ड्राइव के एक होटल में मिला है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मरीन ड्राइव होटल ग्रीन सी में पहुंच गई है।

फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच में जुटी हुई है, शुरुआती जांच में ये मामला सुसाइड का लग रहा है। मुंबई पुलिस के मुताबिक घटनास्थल से एक सुसाइड नोट भी मिला है। सांसद का शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पुलिस ने होटल के कमरे को सील करके मामले की जांच शुरु कर दी है।

कौन हैं निर्दलीय सांसद मोहनभाई डेलकर

मोहनभाई डेलकर

बता दें कि 58 साल के डेलकर दादरा नगर हवेली से लोकसभी सीट से निर्दलीय सांसद थे। मोहनभाई डेलकर दो बच्चों के पिता थे। इससे पहले वे कांग्रेस में थे। 2019 में जब इन्होंने कांग्रेस छोड़ी तो दादरा नगर हवेली के कांग्रेस अध्यक्ष थे।

आपको बता दें, डेलकर अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत में  ट्रेड यूनियन के नेता के तौर जानें जाते थे। कांग्रेस और बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ चुके डेलकर ने बाद में भारतीय नवशक्ति पार्टी का गठन किया था। 2019 के आम चुनाव में इन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ा था, और सातवीं बार सांसद निर्वाचित होकर संसद पंहुचे थे।

डेलकर कार्मिक, लोक शिकायत, विधि एंव न्याय मामलों संबंधी लोकसभा की स्थायी समिती के सदस्य थे, और वह गृह मंत्रालय संबंधी निम्न सदन की सलाहकार समिति के सदस्य भी थे।