मौसम अपडेट : मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट ,दीवाली पर इन ...
//

मौसम अपडेट : मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, दीवाली पर इन प्रदेश में होगी जमकर बारिश

हाल ही में मौसम विभाग ने कुछ प्रदेशो के लिए अलर्ट जारी किया है। इस वर्ष कुछ राज्यों में तो दिन में ठंड का अहसास होने लगा है। कुछ स्थानों पर अधिकतम

हाल ही में मौसम विभाग ने कुछ प्रदेशो के लिए अलर्ट जारी किया है। इस वर्ष कुछ राज्यों में तो दिन में ठंड का अहसास होने लगा है। कुछ स्थानों पर अधिकतम तापमान महज 25 डिग्री के निकटतम और न्यूनतम तापमान 10 डिग्री पर दर्ज किया गया है। समय से पहले प्रदेश के भी कई क्षेत्रों में इसी गिरावट के चलते शीतलहर का प्रकोप शुरू होने की संभावना भी जताई गयी है। यही नहीं 3 नवंबर को हिसार में इससे पहले हिसार में न्यूनतम तापमान महज 10 डिग्री दर्ज किया गया था।

नवंबर के शुरुआती दिनों में गिरा पारा

मौसम अपडेट : मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, दीवाली पर इन प्रदेश में होगी जमकर बारिश

मंगलवार को रोहतक में अधिकतम तापमान महज 28 डिग्री दर्ज किया गया। वही तापमान सामान्य से एक डिग्री कम है। सोनीपत और पानीपत का तापमान महज 25 रहा और यह सामान्य से 4 डिग्री कम है। यही नही तापमान में भारी गिरावट के साथ हिसार और आसपास के शहरों में कोहरा भी बढ़ गया है। कई क्षेत्रों में हल्का सा मध्यम कोहरा भी दिखा। सुबह कुछ जगहों पर इस सीजन में पहली बार विजिबिलिटी 100 मीटर से कम रह गई।

मौसम विभाग के मुताबिक तापमान में गिरावट और कोहरा साथ में नहीं होते। इसका कारण यह है कि धुंध और प्रदूषण की मोटी परत पृथ्वी की सतह को तेजी से ठंडा नहीं होने देती। जिससे तापमान में भारी गिरावट नहीं होती। परन्तु सोमवार को इसका अपवाद देखने को मिला।

नवंबर के शुरुआती 10 दिनों में ही दो बार तापमान 10 डिग्री पहुंच चुका है। यह स्थिति असामान्य है और तापमान में गिरावट और धुंध और प्रदूषण एक दूसरे से जुड़े हुए हैं। जब तापमान में ज्यादा गिरावट होती है तब प्रदूषण की चादर जल्दी साफ नहीं होती है।

दिवाली तक मौसम में होगा परिवर्तन

मौसम अपडेट : मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, दीवाली पर इन प्रदेश में होगी जमकर बारिश

मौसम विभाग के अनुसार यह स्थिति बुधवार को भी बनी रहेगी। इसके बाद स्थिति में धीरे धीरे परिवर्तन शुरू होगा। दीवाली के आसपास 13-14 नवंबर तक तापमान 3 से 4 डिग्री तक बढ़ सकता है और यह सामान्य स्तर पर पहुंच जाएगा। इसकी कारण हवाओं का रुख बदलने वाला है। वहीं उत्तर भारत में जल्द ही एक सक्रिय वेस्टर्न डिस्टरबेंस पहाड़ों पर पहुंचेगा।

12 से 14-15 नवंबर तक उत्तर भारत के पर्वतीय राज्यों में मौसम की हलचल बढ़ेगी। जिससे उत्तर-पश्चिमी हवाओं की रफ्तार थमेगी। हवाओं की दिशा में भी बदलाव होगा और पूर्वी हवाएं दिल्ली-एनसीआर सहित हरियाणा के क्षेत्रों में पहुंचेगी। इसके प्रभाव से दिल्ली और एनसीआर सहित सोनीपत, बहादुरगढ़, झज्जर, रोहतक, पानीपत में भी 15 और 16 नवंबर को हल्की बारिश होने की संभावना नजर आ रही है।

यह इस साल की सर्दियों की पहली बारिश होगी। उम्मीद हैं कि प्रदूषण के हालात में भी कुछ परिवर्तन होगा। बड़ी राहत इसलिए भी होगी क्योंकि दीवाली के ठीक बाद होने वाली यह बारिश प्रदूषण से राहत दिलाएगी।