गोविंदा

अस्सी के दशक किए पॉपुलर स्टार गोविंदा को भी अपने प्यार की क़ुरबानी देनी पड़ी थी. वो नीलम नाम की ऐक्ट्रेस पर इतने फ़िदा हो चले थे , की उन्हें लगता था की उनके अलावा नीलम किसी के साथ खुश नहीं रह सकती. लेकिन हम जो सोचते है , वो हमे कभी नहीं मिल पाता. वैसे भी माना जाता है की जोड़ीया उपर से ही बन कर आती है. गोविंदा को भी अपनी किस्मत के आगे झुकना पड़ा, जिससे उन्होंने अपने प्यार को गँवा दिया था.

आइये जानते है क्या वजह रही , जो अपने डांसिंग की अलग स्टायल से सबका दिल जीतने वाले गोविंदा को अपने प्यार को छोड़ना पड़ा था

गोविंदा ने अपने माँ के कहने पर छोड़ा था अपना प्यार

गोविंदा

जानकारी के मुताबिक गोविंदा अपनी को स्टार नीलम की सादगी से आकर्षित होकर उन्हें अपना दिल तक दे बैठे थे, और उनसे शादी भी करना चाहते थे. हालाँकि उनकी माँ चाहती थी कि वो फिल्म डायरेक्टर आनंद सिंह की साली सुनीता से शादी कर ले और नीलम को भूल जाए. इस वजह से गोविंदा धर्म संकट में फंस गए क्योंकि वो अपनी माँ की बात कभी नहीं टालते थे, इसलिए उन्होंने अपनी माँ की बात मानते हुए साल 1987 में सुनीता से शादी कर ली.

गोविंदा

लेकिन उन्होंने नीलम से अपनी शादी की बात छुपाये रखी, क्योंकि वो नहीं चाहते थे की उनकी और नीलम की हिट जोडी टूटे. हालाँकि उन्हें बाद में इस बात का अफ़सोस भी हुआ था, उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा था की उन्हें नीलम से अपनी शादी की बात नहीं छुपानी चाहिए थी.

गोविंदा ने नीलम के लिए सुनीता से सगाई तोड़ दी थी

गोविंदा

बात दें जब गोविंदा ने प्रोड्यूसर प्राण लाल मेहता के ऑफिस में पहली बार देखा था उसी समय नीलम को अपना दिल दे बैठे थे. जिसके बाद गोविंदा के साथ काम करने का मौका भी मिल गया और वो नीलम के और नजदीक आ गए,  हालाँकि तब तक वो सुनीता से सगाई कर चूंके थे इसलिए उन्होंने नीलम को अपना बनाने के मकसद से अपनी सगाई तक तोड़ थी. बाद में जब इस बात का पता उनकी माँ को चला तो उन्होंने गोविंदा से अपनी बात पर अडिग रहने की बात कही.

गोविंदा की शादी शुदा जिंदगी में आ गया था भूचाल

गोविंदा

गौरतलब है कि जब इस बात की जानकारी उनकी पत्नी सुनीता को हुयी तो उनकी शादी शुदा जिंदगी में भूचाल आ गया था. लेकिन उन्होंने परिस्थितियों को सभालते हुए नीलम से दुरी बना ली थी. लेकिन कही ना कही वो कई सालो तक उन्हें भुला नहीं पाए थे. लेकिन अब वो अपनी पत्नी और बच्चो के साथ खुशहाल जिंदगी बिता रहे है.

गोविंदा

गोविंदा ने एक इंटरव्यू के दौरान नीलम के बारे में कहा था, ”उस वक्त नीलम ने व्हाइट कलर की शॉर्ट्स पहन रखी थीं, उनके लंबे बाल देखकर ऐसा लगा जैसे वो कोई परी हों मै सेट पर उन्हें जोक्स सुनकर खूब हसाता था. जिसके बाद हम मिलने लगे और मै नीलम से प्यार करने लगा, उनके प्रति मेरा झुकाव बढ़ने लगा. वो एक ऐसी लेडी थी जिनसे कोई प्यार करे बिना नहीं रह सकता था”

देखने वाली बात ये भी थी की एक तरफ गोविंदा का झुकाव नीलम के लिए बढ़ रहा था, वही दूसरी तरफ नीलम की तरफ से ऐसा कुछ नहीं था. उन्होंने ये तक कह डाला था की नीलम की लिए उनसे बेहतर कोई नहीं हो सकता. गोविंदा ने नीलम के साथ फिल्म ‘लव 86’ (1986), ‘खुदगर्ज’ (1987), ‘सिंदूर’ (1987), ‘हत्या’ (1988), ‘घराना’ में काम किया था.

 

 

ये भी पढ़े:

महज ढाई साल की उम्र में पिता की हुई मौत, अनाथालय में पला कश्मीर का ये युवा बना IAS ऑफिसर |

किसान आन्दोलन में लगा ली अपनी दुकान, अब फ्री में किसानो का बाल और दाढ़ी बनाते |

अनाथ मूक-बधिर बच्चे के किस्मत में था विदेश स्पेनिश महिला ने लिया गोद, बच्चा लगा रोने तो सभी की आंखे आई भर |

आज का राशिफल: इन चार राशियों के लिए अच्छा है आज का दिन, मिथुन, कर्क, कन्या को बचना होगा इस काम से |

IND vs AUS: ख़राब प्रदर्शन आलोचना झेल रहे पृथ्वी शॉ का छलका दर्द पोस्ट लिख कही ये बात |