Ravi Shastri

भारतीय क्रिकेट टीम के मौजूदा हेड कोच रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) ने सोशल मीडिया पर अपने साथी व पूर्व भारतीय हरफनमौला क्रिकेटर राजेंद्र सिंह जडेजा के निधन पर श्रद्धांजलि देते हुए दुख जताया है. ऐसा माना जा रहा है कि राजेंद्र सिंह जडेजा कोरोना से संक्रमित थे और रविवार रात को उन्होनें 66 वर्ष की उम्र में अंतिम सांस ली. हालांकि, भारत में हमें रोजाना कोरोना से कई मौते जरूर देखने को मिल रही हैं.

लेकिन भारतीय टीम के लिए इसी साल ये दुसरा मौका है जब उनके किसी करीबी पूर्व खिलाड़ी की कोरोना से मौत हो गई हो, जी हां, इससे पहले हाल ही में बीसीसीआई के चयनकर्ता के कोरोना से निधन होने की खबर सामने आई थी और अब पूर्व भारतीय खिलाड़ी राजेंद्र सिंह जडेजा के निधन की खबर सामने आई है.

Ravi Shastri ने ट्वीटर पर दी श्रद्धांजलि

भारतीय ऑलराउंडर 'जडेजा' के निधन पर बोले टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री- एक सच्चा दोस्त खो दिया

सौराष्‍ट्र के पूर्व क्रिकेटर और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के रेफरी राजेंद्रसिंह जडेजा का बीती रविवार रात को कोरोना वायरस के कारण निधन हो गया था. उनके इस निधन पर भारतीय टीम के मौजूदा हेड कोच रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) ट्वीट करते हुए श्रद्धांजलि दी. इस उन्होनें जो कुछ भी लिका वो वाकई उनकी और राजेंद्रसिंह जडेजा के बीच की दोस्ती की घहराई को साफ दर्शाता है.

दरअसल, रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) ने अपने इस ट्वीट में उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए लिखा कि “वो वास्‍तविक जेंटलमैन थे. ईश्‍वर उनकी आत्‍मा को शांति दें. जडेजा ने सौराष्‍ट्र के तेज गेंदबाजी आक्रमण का एक दशक तक नेतृत्व किया. उन्‍होंने बांबे के लिए कॉरपोरेट क्रिकेट भी खेला. इसके साथ ही उन्‍हें दलीप ट्रॉफी में वेस्‍ट जोन के लिए खेलने का अवसर भी मिला”

राजेंद्रसिंह जडेजा और रवि शास्त्री की दोस्ती

भारतीय ऑलराउंडर 'जडेजा' के निधन पर बोले टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री- एक सच्चा दोस्त खो दिया

पूर्व भारतीय हरफनमौला क्रिकेटर राजेंद्रसिंह जडेजा की गिनती घरेलू क्रिकेट के सबसे शानदार स्विंग बॉलिंग ऑलराउंडर्स में होती थी. आपको बता दें कि, जडेजा ने 1974 से 1987 तक प्रोफेशनल क्रिकेट खेला और 22 गज की पिच पर अपने प्रदर्शन से जमकर तहलका मचाया, लेकिन इस दौरान उनका रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) के साथ बहुत ज्यादा याराना रहा था और इस बात का दुख उनके इस ट्वीट में साफ तौर पर झलक रहा है. इसमें उन्होनें साफ लिखा है कि निरलोंस मुंबई और वेस्‍ट जोन के साथी और इतने सालों से दोस्‍त रहे राजू जडेजा का जाना बेहद दुखद है.