आईपीएल फाइनल में शानदार प्रदर्शन के चलते कुंग-फु पंड्या ने बनाया यह शानदार रिकॉर्ड

Hardik Pandya: इंडियन प्रीमियर लीग 2022 में आज फाइनल मुकाबला नरेंद्र मोदी स्टेडियम में  गुजरात टाइटंस और राजस्थान रॉयल्स के बीच खेला गया. 14 साल बाद आईपीएल ट्राफी जीतने का सपना लिए मैदान में उतरी राजस्थान की टीम को 7 विकेट से हार का मुहँ देखना पड़ा. गुजरात टाइटन्स ने अपने पहले ही सीज़न में शानदार जीत हासिल करते हुए आईपीएल के ख़िताब पर कब्ज़ा कर लिया है. मैच में पहले बल्लेबाज़ी करने उतरी राजस्थान की टीम ने सिर्फ 130 का स्कोर बनाया जिसको काफी आसानी से गुजरात ने 18.1 ओवर में ही शामिल कर लिया. गुजरात को जीत दिलाने में हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने अहम भूमिका निभाई जिसके बाद उन्हें प्लेयर ऑफ़ द मैच चुना गया.

Hardik Pandya बने प्लेयर ऑफ़ दी मैच

Hardik Pandya

फ़ाइनल मुकाबले में शानदार प्रदर्शन के चलते हार्दिक पांड्या को (Hardik Pandya) प्लेयर ऑफ़ द मैच चुना गया. राजस्थान के खिलाफ पंड्या (Hardik Pandya) ने शानदार गेंदबाजी करते हुए तीन विकेट अपने नाम किये.  हार्दिक ने बटलर, हिटमायर और संजू सैमसन का विकेट लिया था. साथ ही बल्ले से भी 30 गेंदों में 34 रन बनाकर टीम को जीत दिलवाई. वो चहल का मैच में अकेला विकेट थे जिसकी वजह से चहल को पर्पल कैप मिली.

प्लेयर ऑफ़ द मैच बनने के बाद पांड्या का बयान

Hardik Pandya

गुजरात के कप्तान हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने कहा,

”मैंने अपनी गेंदबाज़ी पर काफ़ी मेहनत की है। मैं चाह रहा था कि एक अहम मौक़े पर मैं बढ़िया प्रदर्शन करूं। मैं बढ़िया लाइन और लेंथ पर गेंदबाज़ी करने का प्रयास कर रहा था और कोशिश कर रहा था कि कम से कम बाउंड्री दूं। मेरे लिए टीम सबसे ऊपर है। मैं टीम के लिए कुछ भी करने को तैयार हूं। किसी भी पोज़िशन पर बल्लेबाज़ी करने के लिए तैयार हूं। मैं चाह रहा था नंबर चार पर बल्लेबाज़ी करूं और टीम के अन्य खिलाड़ियों को खुल कर खेलने का मौक़ा दूं।”

गुजरात के कप्तान हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने राजस्थान के खिलाफ अपने कोटे के चार ओवर में सिर्फ 17 रन देकर तीन विकेट अपने नाम किये है. आईपीएल इतिहास में किसी भी फाइनल में यह कप्तान द्वारा की गयी अभी तक की दूसरी सबसे शानदार गेंदबाज़ी है. साथ ही हार्दिक ने दमदार बल्लेबाजी भी की. वो आईपीएल के फ़ाइनल में 30 या उससे अधिक रन बनाने और तीन विकेट लेने वाले दूसरे खिलाड़ी बने हैं. इससे पहले यह कारनामा साल 2008 में आईपीएल के पहले सीज़न में युसुफ पठान ने ऐसा किया था. वहीं, हार्दिक पंड्या ने अपनी कप्तानी में डेब्यू सीजन में ही आईपीएल 2022 कप अपने नाम किया जो अपने  नाम के काफी ख़ास बात है.

और पढ़िए:

आईपीएल (IPL) इतिहास के शतक लगाने वाले सबसे युवा बल्लेबाज़, लिस्ट में चार भारतीय खिलाडी शामिल

आईपीएल (IPL) इतिहास में पहली ही गेंद पर विकेट लेने वाले गेंदबाज, लिस्ट में बेबी मलिंगा भी शामिल

आईपीएल (IPL) जैसे टी20 लीग से हो रहा है इंटरनेशनल क्रिकेट को नुकसान, आईसीसी चेयरमैन ने दिया ये बड़ा बयान