Hardik Pandya के ट्रॉफी जीतने के बाद इमोशनल हुई पत्नी नताशा, बीच मैदान हार्दिक को लगाया गले
Hardik Pandya के ट्रॉफी जीतने के बाद इमोशनल हुई पत्नी नताशा, बीच मैदान हार्दिक को लगाया गले

आईपीएल 2022 के फाइनल मुकाबले में गुजरात टाइटंस ने राजस्थान रॉयल्स को 7 विकेट से हराकर इस सीजन की ट्रॉफी अपने नाम कर ली है। बता दें गुजरात टाइटंस का ये सीजन डेब्यू सीजन रहा और अपने डेब्यू सीजन में ही Hardik Pandya की कप्तानी में टीम शुरुआत से ही विपक्षी टीमों पर हावी होती नजर आई। जहां आईपीएल के शुरुआत मैच में गुजरात का सफर जीते के साथ ही शुरु हुआ था, तो वहीं आईपीएल 2022 के सफर का अंत भी गुजरात को जीत के रूप में हासिल हुआ। इस फाइनल मैच में गुजरात टीम ने राजस्थान टीम को 7 विकेट से हराकर इतिहास में अपना नाम दर्ज कर लिया है।

वहीं मैच में Hardik Pandya को मिली जीत के बाद बीच मैदान हार्दिक की पत्नी नताशा काफी इमोशनल नजर आई। वो कहते है न खुशी के आंसू, बस नताशा के लिए ये खुशी के आंसू थे जब हार्दिक ने ये ट्रॉफी जीती। और बीच मैदान नताशा के हार्दिक पांड्या को गले भी लगाया, जिसका वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है।

बीच मैदान नताशा ने Hardik Pandya को लगाया गले

बीच मैदान नताशा ने Hardik Pandya को लगाया गले
बीच मैदान नताशा ने Hardik Pandya को लगाया गले

दरअसल आईपीएल 2022 के फाइनल मुकाबले में गुजरात टाइंटस ने राजस्थान टीम को 7 विकेट से हराकर सीजन 15 का खिताब अपने नाम कर लिया है। इस मैच में हार्दिक पांड्या की कप्तानी वाली टीम को मिली जीत के बाद फैंस की खूशी का ठिकाना नहीं है। इस मैच में मिली जीत के बाद Hardik Pandya की पत्नी नताशा काफी इमोशनल नजर आई। जहां बीच मैदान उन्होंने हार्दिक को गले लगाकर जीत की बधाई दी, जिसका वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है वीडियो

गुजरात के लिए परफेक्ट कप्तान साबित हुए Hardik Pandya

बीच मैदान नताशा ने Hardik Pandya को लगाया गले
बीच मैदान नताशा ने Hardik Pandya को लगाया गले

आईपीएल 2022 में गुजरात टाइटंस के लिए कप्तान Hardik Pandya एक दम परफेक्ट कप्तान साबित हुए। जहां गुजरात टीम ने अभी तक के मुकाबलों में सिर्फ 4 बार ही हार का सामना किया। तो वहीं हार्दिक पांड्या सिर्फ बल्लेबाजी में नहीं बल्कि गेंदबाजी में भी कमाल का नजारा पेश करते दिखें। इस फाइनल मैच में भी हार्दिक पांड्या ने राजस्थान टीम के 3 खिलाड़ियों को आउट कर पवेलियन भेजा। और 131 रनों के लक्ष्य को आसानी से हासिल कर ट्रॉफी अपने नाम की।