हाथरस केस: आरोपी की मां बोली 'मेरे बेटे को जानबूझकर फंसाया..
/

हाथरस केस: आरोपी की मां बोली ‘मेरे बेटे को जानबूझकर फंसाया जा रहा है, हर जांच के लिए तैयार

उत्तर प्रदेश के हाथरस केस ने पूरे देश को हिला दिया है। देश के हर कोने से हाथरस पीड़िता के लिए न्याय की आवाज़ बुलंद है। लेकिन अभी तक इस मामले

उत्तर प्रदेश के हाथरस केस ने पूरे देश को हिला दिया है। देश के हर कोने से हाथरस पीड़िता के लिए न्याय की आवाज़ बुलंद है। लेकिन अभी तक इस मामले में इस चीज की पुष्टि नहीं हुई है कि 19 साल की मृत पीड़िता के साथ गैंगरेप हुआ था या नहीं। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सीबीआई जांच की सिफारिश की है। फिलहाल यूपी पुलिस ने इस मामले में चार लोगों को सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के प्रयास के आरोप में गिरफ्तार कर चुकी है। वही राज्य के एडीजी प्रशांत कुमार का कहना है कि ”एफएसएल रिपोर्ट ने यह स्पष्ट कर दिया है कि महिला के साथ रेप या सामूहिक दुष्कर्म नहीं हुआ था।”

आरोपी की माँ बोली ‘मेरा बेटा बेकसूर है’

यही नहीं एक टीवी चैनल ने एक आरोपी की मां से बात की है उनका कहना है उनका बेटा बेकसूर है और उसने ही पीड़िता की तबियत खराब होने के बाद उसे पानी पिलाया था। उनका कहना है कि हर तरह की जांच से गुजरने के लिए तैयार हैं क्योंकि उनके बेटे को फंसाया जा रहा है। आगे उन्होंने बताया कि ’14 सितंबर को वह खेत में अपने बेटे के साथ थी जब ये घटना हुई।

उनका बेटा काम पर गया था और उन्होंने ही लड़की को पानी पिलाया था। आरोपी की मां ने दावा किया कि ‘लड़की बोल रही थी कि संदीप ने उसे मारा है। मैं और मेरे बेटे ने लड़की की मदद की। पता नहीं क्यों मेरे बेटे पर आरोप लगाया जा रहा? जब हम पहुंचे तो लड़की की हालत ठीक थी और लड़की के शरीर पर चोट के निशान भी नहीं थे।

हर जांच के लिए हैं तैयार

यही नहीं आरोपी की माँ ने कहा कि वे हर तरह की जांच के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा “मेरे बेटे को जानबूझकर फंसाया गया है। उसने गुनाह किया है किया होता तो भाग जाता। नार्को टेस्ट और सीबीआई जांच के लिए तैयार हैं। जल्द से जल्द न्याय मिलना चाहिए। बता दें कि उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में 14 जून को 19 वर्षीय युवती के साथ कथित रूप से चार लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था, फिर आरोपियों ने युवती को जान से मारने के लिए गला दबा दिया। युवती को हालत खराब होने के बाद दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल इलाज के लिए भेज दिया गया था, वहां पर उसकी मौत हो गई थी।

सीबीआई करेगी जांच

उत्तर प्रदेश सरकार ने हाथरस की 19 वर्षीय दलित लड़की के साथ कथित सामूहिक दुष्कर्म और उसकी मौत के मामले में शनिवार को सीबीआई जांच की सिफारिश की गयी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर इस फैसले के बारे में जानकारी दी।