देश में कोरोनावायरस से हुईं 30 हजार से ज्यादा मौतें, भारत की मदद को आगे आया इजराइल

नई दिल्ली: देश में कोरोनावायरस के मामले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। कोरोनावायरस के अब तक देश में 13 लाख के करीब मरीज हो चुके हैं। चिंताजनक स्थिति मौतों की है, क्योंकि अब त 30,645 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं एक बड़ी संख्या में लोग ठीक भी हुए हैं। अब भारत की मदद के लिए इजरायल अपनी रिसर्च टीम भेजने वाला है।

इजराइल से बढ़ेगा सहयोग

देश में कोरोनावायरस से हुईं 30 हजार से ज्यादा मौतें, भारत की मदद को आगे आया इजराइल

भारत में स्थित इजराइली दूतावास द्वारा कहा गया है कि अगले कुछ हफ्तों में भारत और इजराइल के विदेश, स्वास्थ्य और रक्षा मंत्रालय दोनों देशों के बीच कोरोनावायरस को लेकर सहयोग बढ़ाएंगे। जल्द ही वहां से एक इजराइली रिसर्च टीम भी नई दिल्ली के लिए रवाना होगी और कोरोनावायरस से रोकथाम में इजरायल भारत की मदद करेगा।

एक और नया रिकॉर्ड

भारत में पिछले 24 घंटों में रिकार्ड 48 हज़ार से ज़्यादा कोरोनावायरस के मामले सामने आए हैं। वहीं इस दौरान करीब 755 लोगों की मौत हो चुकी है। देश में कुल कोरोनावायरस से संंक्रमित मरीजों की तादाद अब 12 लाख 88 हजार से ज्यादा हो चुकी है।

वहीं अब तक 30,645 लोग जान गंवा चुके हैं। राहत की बात ये है कि 8 लाख से ज्यादा मरीज कोरोनावायरस से ठीक होकर वापस घर भी जा चुके हैं।

बुरी स्थिति में चार राज्य

देश में कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली, कर्नाटक हैं। कुल 30 हजार से ज्यादा मौतों में करीब 21 हजार मौतें इन्हीं चार राज्यों में हुईं हैं।

खौफ़नाक बात ये भी है कि अभी भी कोरोनावायरस के मामले इन राज्यों में ही सर्वाधिक सामने आ रहे हैं। महाराष्ट्र में 12,854, दिल्ली में 3,745 तमिलनाडु में 3,232 और कर्नाटक में अब तक 1,616 लोगों की मौत हो चुकी है।

देश में कोरोनावायरस से हुईं 30 हजार से ज्यादा मौतें, भारत की मदद को आगे आया इजराइल

असम में बिगड़े हालात

पूर्वोत्तर राज्य असम में कोरोनावायरस के मामले दिन-ब-दिन बढ़ते जा रहे हैं। यहां हर दिन लगभग हजार से ज्यादा केस सामने आ रहे हैं। पिछले 24 घंटो में कोरोनावायरस के 1,047 मामले सामने आए हैं। वहीं अब तक यहां कोरोनावायरस का कुल आंकड़ा 28,791 तक पहुंच चुका है। राज्य में अब तक 70 लोगों की मौत भी हो चुकी है। आपको बता दें कि वर्तमान में असम में कोरोनावायरस के कुल 9,368 केस एक्टिव हैं।

आंध्र प्रदेश में 8 हजार नए केस

देश के एक बड़े राज्य आंध्र प्रदेश में भी कोरोनावायरस के मामले बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं। पिछले 24 घंटों में यहां संक्रमण के 8 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं और 61 लोगों की मौत हुई है।

वहीं आपको बात दें कि आंध्र प्रदेश में कोरोनावायरस के कारण अब तक 884 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं कुल संक्रमण के मामले करीब 72,711 हैं। इसके साथ ही यहां कुल एक्टिव केस की संख्या लगभग 34 हजार है।

यूपी में बढ़ता मौतों का आंकड़ा

देश के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश में कोरोनावायरस के मामले अब हर दिन बढ़ रहे हैं। पिछले 24 घंटों में यहां कोरोनावायरस के 2529 कोरोनावायरस के नए मामले सामने आए हैं जबकि इस दौरान 35 लोगों की मौत भी हुई है। इसकेे साथ ही उत्तर प्रदेश में मरने वालों का आंकड़ा 1298 तक जा चुका है।

सबसे ज्यादा एक दिन की रिकवरी

एक तरफ जब कोरोनावायरस से मौतों का आंकड़ा डरा रहा है तो दूसरी ओर इससे ठीक होने वालों के आंकड़े हौंसले भी बुलंद कर रहे हैं। पिछले 24 घंटों में 29,557 मरीज कोरोनावायरस से ठीक होकर घर जा चुके हैं। वहीं अब‌ आईसीएमआर के मुताबिक देश में एक्टिव केस की तादाद 3 लाख 56 हजार के करीब है।

देश में कोरोनावायरस से हुईं 30 हजार से ज्यादा मौतें, भारत की मदद को आगे आया इजराइल

सरकारों के सख्त नियम

कोरोनावायरस के रोकथाम में सबसे ज्यादा कारगर सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क को माना जा रहा है जबकि लगातार लोग इन नियमों को लेकर असावधानी बरत रहे हैं जिसके चलते सरकारें ज्यादा सख्त हो गई है।

जम्मू-कश्मीर में प्रशासन ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करने वाले लोगों के खिलाफ 2 हजार रुपए का जुर्माना घोषित कर दिया है ‌वहीं झारखंड सरकार ने भी एक लाख के जुर्माने के साथ ही दो साल की जेल की घोषणा भी कर दी है।

 

 

 

ये भी पढ़े:

आज रिलीज होगा सुशांत की फिल्म दिल बेचारा, उससे पहले देखें फिल्म के मेकिंग |

हिंदी जोक्स: पति, पत्नी तलाक लेने जज के पास पहुंचे, पत्नी ने कहा मुझे इनके साथ नहीं रहना |

महज 32 सेकंड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रखेंगे राम मंदिर निर्माण की आधारशिला |

अमर दुबे से हुई थी ख़ुशी की दूसरी शादी, पहली शादी मात्र 15 दिन ही चली |

उत्तर प्रदेश के इन जिलों में अगले 3 घंटो में हो सकती है भारी बारिश, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट |

Leave a comment

Your email address will not be published.