कोरोनावायरस की दवा का इंतजार कर रहे लोगों के लिए खुशखबरी

COVID-19 वैक्सीन: कोरोनावायरस की दवा का इंतजार कर रहे लोगों के लिए खुशखबरी, इस महीने मिल सकता है वैक्सीन

कोरोनावायरस एक वैश्विक महामारी बन चुकी है, मौजूदा समय में कई देश ऐसे हैं जो इस बीमारी से इतना ज्यादा परेशान हैं, कि इस बीमारी की वैक्सीन पर मनचाहा पैसे देने को तैयार हैं.

कुछ देश ने इस महामारी में लॉकडाउन बनाये रखा है, तो वहीं कुछ देशों ने लॉकडाउन हटा लिया है, वहीं जिन देशों ने नहीं हटाया है वो अपनी अर्थव्यवस्था को लेकर परेशान हैं और जल्द ही लॉकडाउन हटा सकते हैं, लेकिन इन सब के बीच सभी को सिर्फ एक चीज का ही इंतजार है और वो है कोरोना की वैक्सीन.

पूरी दुनिया इस महामारी की चपेट में हैं और वैज्ञानिक अपने जान की परवाह किये बिना लोगों के लिए कोरोनावायरस की वैक्सीन बनाने में लगे हुए हैं. आज हम आपकों बताते हैं कि वैक्सीन पर इस हफ्ते क्या सफलता हाथ लगी है.

और पढ़ें: भारतीय सेना ने दिया पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब, 8 से 10 चौकियां किया तबाह, कई पाकिस्तानी सैनिक घायल

जॉनसन एंड जॉनसन जुलाई में शुरू करेगी ह्यूमन ट्रायल

इस अमेरिकन कम्पनी ने दावा किया है, कि उसने वैक्सीन बना ली है और अब तक की उसकी ट्रायल सफल रहे हैं, अब कम्पनी जुलाई में तय समय से 2 महीने पहले ह्यूमन ट्रायल करने वाली है, सरकार के साथ कम्पनी का पहले ही कॉन्ट्रैक्ट हो चूका है और कम्पनी 1 अरब डोज वैक्सीन बनाने वाली है, सब कुछ ठीक रहा तो जुलाई अंत तक इस महामारी की वैक्सीन सभी देशों के पास होगी.

भारत की बायोटेक फर्म कर रही अमेरिका के साथ काम

भारत की बायोटेक फर्म पानासिया भी अमेरिका कम्पनी रेफाना इंक के साथ वैक्सीन बनाने के लिए कॉन्ट्रैक्ट करेगी. कम्पनी ने कहा है, कि

“इस साझेदारी का उद्देश्य वैक्सीन की 500 मिलियन यानी 50 करोड़ से अधिक खुराक बनाना है. 40 मिलियन यानी 4 करोड़ से अधिक खुराक अगले साल की शुरुआत में उपलब्ध होने की उम्मीद है.”

भारत की यह कम्पनी दवा बनाने में ये पूरा साल लगा सकती है, लेकिन जॉनसन एंड जॉनसन ने जुलाई अंत तक का उम्मीद जताया है, ऐसे में उम्मीद है कि सब ठीक रहा तो जल्द ही भारत के पास इस बीमारी की दवा उपलब्ध होगी.

और पढ़ें: राज्यसभा चुनाव से पहले चढ़ा सियासी पारा, कांग्रेस को सता रही विधायकों की चिंता