ये फिल्मे जिनकी वजह से सनी देओल का स्टारडम कॅरियर हो गया....
/

5 फिल्म जिनकी वजह से खत्म हो गया सनी देओल का स्टारडम

घातक,दामिनी,ग़दर जैसी सुपर हिट फिल्मे देने वाले धर्मेंद्र के बेटे सनी देओल को पुरे बॉलीवुड ने ढाई किल्लो के हाथ वाली उपाधि दे रखी है। फिल्म 'बेताब' से उन्होंने अपने फ़िल्मी करियर

घातक, दामिनी, ग़दर जैसी सुपर हिट फिल्मे देने वाले धर्मेंद्र के बेटे सनी देओल को पुरे बॉलीवुड ने ढाई किल्लो के हाथ वाली उपाधि दे रखी है। फिल्म ‘बेताब’ से उन्होंने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत की थी। इंडस्ट्री में किस्मत और अभिनय पर सब निर्भर करता है कभी कभी कुछ फिल्मे फ्लॉप भी हो जाती जिससे एक अच्छे एक्टर का करियर ग्राफ भी नीचे आ सकता है। यदि किसी एक्टर को स्टारडम बरक़रार रखना है तो उसे अच्छी फिल्मो का ही चुनाव करना जरुरी है।

अगर आपका अभिनय और किस्मत साथ नहीं देती तो धीरे धीरे स्टारडम कम होता जाता है। कुछ ऐसा ही हुआ है सनी देओल के साथ उन्होंने एक समय में एक के बाद एक फ्लॉप फिल्मे दी है। कुछ अच्छी स्टोरी न मिल पाना इसकी एक वजह है। बताते हैं आज ऐसी ही सनी देओल की फिल्मो के बारे में जिसकी वजह से आज उनका करियर का ग्राफ नीचे गिर गया है।

काफिला

 

यह फिल्म 17 करोड़ की लागत से बनी और बॉक्स ऑफिस में 7 करोड़ ही कमा सकी। इस फिल्म के डायरेक्टर अमितोज मान और सना नाकज लीड रोल में नज़र आयी थी।

खुदा कसम

इस फिल्म में सन्नी और तब्बू लीड रोल में नज़र आये थे और यह फिल्म साल 2010 में रिलीज हुई थी। फिल्म एक्शन से भरपूर थी इस फिल्म की लागत 9 करोड़ थी। फिल्म बॉक्स ऑफिस पर 76 लाख ही कमा सकी।

रोक सके तो रोल लो

साल 2014 में फिल्म ‘रोक सको तो रोक लो’ आयी। यह फिल्म 9 करोड़ की लागत से बनी और बॉक्स ऑफिस पर सिर्फ 1.49 करोड़ ही कमा सकी।

लकीर

साल 2004 में आई फिल्म सनी की सबसे फ्लॉप फिल्म साबित हुई जिसे दर्शको ने काफी बुरा और असफल फिल्म बताया।सुनील शेट्टी ,जॉन अब्राहम, सनी देओल थे और फिल्म में एक अच्छी स्टोरी की कमी और डायलॉग की कमी से फिल्म काफी घटिया साबित हुई। सुपर हिट फिल्मे देने वाले सुनील शेट्टी और जॉन अब्राहम इस फिल्म को बचा नहीं सके।

जो बोले सो निहाल

इस फिल्म में सन्नी ने एक ईमानदार पुलिस वाले का किरदार निभाया था जिसे दर्शको ने काफी सराहा फिलहाल इस फिल्म को 15 करोड़ की लागत से बनाया गया और इस की कमाई 8 करोड़ की ही हुई।