मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, नौ अक्टूबर को इन राज्यों.....
/

इन राज्यों पर फिर मंडराया चक्रवाती तूफान का खतरा, अलर्ट जारी

मौसम विभाग के अनुसार  उत्तरी अंडमान सागर नौ अक्टूबर को कम दबाव का क्षेत्र बन सकता है। दिल्ली सहित भारत के उत्तरी राज्य तबाही मचाने वाले

मौसम विभाग के अनुसार  उत्तरी अंडमान सागर नौ अक्टूबर को कम दबाव का क्षेत्र बन सकता है। दिल्ली सहित भारत के उत्तरी राज्य तबाही मचाने वाले तूफान और चक्रवाती हवाएं चल सकती है। फिलहाल चक्रवाती तूफ़ान आने की कोई भविष्यवाणी नहीं की है। जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान से लेकर भारत के उत्तरी पश्चिमी पहाड़ी इलाकों तक एक वेस्टर्न डिस्टरबेंस जल्द ही दस्तक दे सकता है। आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तटीय इलाके की ओर चक्रवाती तूफान बनकर बढ़ने की आशंका है। 11-13 अक्टूबर के बीच कम दबाव वाले क्षेत्र से ओडिशा और तटीय आंध्र प्रदेश में बारिश हो सकती है। अक्टूबर में अक्सर बंगाल की खाड़ी में चक्रवात आता है।

कोरोना संक्रमण रोकना हो जाएगा कठिन

जैसे-जैसे सर्दियां बढ़ रही हैं उत्‍तर भारत के मैदानी इलाकों में न्यूनतम तापमान भी गिर रहा है और वायु प्रदूषण भी बढ़ता जा रहा है। कई शहरों में स्थिति चिंता बढ़ाने वाली है। रविवार रात साढ़े नौ बजे लखनऊ, कानपुर और हरियाणा के यमुनानगर का एयर क्वालिटी इंडेक्स स्थिति गंभीर है। विशेषज्ञों के अनुसार वायु जितना अधिक प्रदूषित होगी, उतना ही कोरोना वायरस मजबूत होगा। इस समय कोरोना संक्रमण रोकना कठिन हो जाएगा। हरियाणा की सीमा से सटा राजस्थान का औद्योगिक नगर भिवाड़ी रविवार को देश में सबसे ज्यादा प्रदूषित रहा। वहां का एक्यूआइ शाम पांच बजे 311 दर्ज किया गया। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली, गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा और फरीदाबाद की हवा भी खराब श्रेणी में पहुंचने वाला है।

हो सकती है बारिश

मौसम के पूर्वानुमान की जारी रिपोर्ट अनुसार, अगले दो-तीन दिनों के दौरान उत्तरी मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों, राजस्थान के लगभग सभी क्षेत्रों और उत्तर प्रदेश के कुछ भागों से मॉनसून के वापस आने की आशंका हैं । पश्चिमी विक्षोभ के चलते दिल्ली से लेकर भारत के पूर्वोत्तर इलाकों तक रहेगा जिसके चलते उत्तर पश्चिमी भारत के साथ पूर्वोत्तर के कुछ इलाकों तक आंधी तूफान का असर रहेगा। अगले 24 घंटों के दौरान पूर्वोत्तर भारत में कुछ जगहों हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।