महामारी के बीच इस शख्स ने किया रीसेलिंग का बेहतरीन कारोबार, कमा लिए 5 लाख डॉलर

लॉक डाउन में 17 साल के इस युवक ने घर बैठे की 5,00,000 डॉलर की कमाई, जाने कैसे

कोरोनावायरस की महामारी के बीच इस एंटरप्रेन्योर ने घर बैठे किया रीसेलिंग का बेहतरीन बिजनेस

इस वैश्विक महामारी के दौर में जब सब कुछ लगभग ठप था तब एक एंटरप्रेन्योर ने अपने रीसेल स्नीकर्स के बिजनेस में ऐसी। सफलता पाई कि वो खबरों में आ गया। अब इस बिजनेस में इस शख्स ने 5,00,000 डॉलर की कमाई कर ली जो कि लॉकडाउन के समय के चल रही बंदिशों में कमाना मुश्किल था‌।

सफल रहा बिजनेस

17 साल की उम्र में स्नीकर रिसेलिंग करने वाले एक हाईस्कूल ग्रेजुएट डैनी हस्बनी ने बताया कि कि इस क्वारंटीन के समय में मेरा बिजनेस बेहद सफल रहा। ऐसी विपरीत परिस्थितियों जब स्नीकर्स के प्रोडक्शन से लेकर उनकी ब्रिक्री तक में गिरावट रही थी। इन विपरीत परिस्थितियों में भी उनका बिजनेस सेटल रहा है। रीसेल मार्केट के लिए ये समय काफी सकारात्मक था।

अच्छी रही सेल

ऐसे समय में जब बड़े स्टोर और ऑनलाइन शॉपिंग बंद थी तब हस्बनी को उनके कॉन्टैक्ट और जान-पहचान का फायदा हुआ और इसी के कारण वो बिजनेस को आगे बढ़ाने में कामयाब रहे और लोगों ने खरीद के लिए उनसे ज्यादा से ज्यादा संपर्क किया। हस्बनी ने बताया,

बिक्री वाकई में अच्छी रही लोग फुट स्टोर नहीं जाना चाहते थे, वो मुझसे मैसेज करके स्नीकर्स की मांग कर रहे थे और मैंने उन्हें वो दिए और ये सफल रहा।

थोक सामान से सफल बिजनेस

हस्बनी ब्रिक चैट कंपनी के सह-मालिक भी हैं, जो एक मानक स्नीकर ‘कुक ग्रुप’ है। जिसमें ये यूजर्स को स्नीकर्स से जुड़ी जानकारियों के लिए मासिक रुप से शुल्क भी लेते हैं। हस्बनी का मानना है कि थोक में सामान खरीद कर बिजनेस करधि एक मुनाफे का सौदा है लेकिन वे सभी सही दिशा में नियमों के साथ किए जाने चाहिए।

 

 

 

 

HindNow Trending : वॉट्सऐप में किसी एक कॉन्टैक्ट से भी छुपा सकते हैं अपना स्टेटस | रिकॉर्ड तोड़ रहा कोरोनावायर
| सुशांत सिंह राजपूत को लेकर किया गया ट्रोल | जमीन की सौदेबाजी को बना रखा था धंधा | पुलवामा में फिर हुआ 
आतंकी हमला |