Today Mustard Oil Price : सरसों का तेल हुआ सस्ता, जानिए अब क्या है 1 लीटर तेल की कीमत

Mustard Oil Price : पेट्रोल और डीजल के दामों में आई कमी का असर अब अन्य खाद्य वस्तुओं पर भी दिखने लगा है. सरसों तेल के दाम में भी गिरावट दर्ज की गई है. बता दें कि आज यानी 6 दिसंबर 2021 को तेल-तिलहन के बाजारों में सरसों तेल के साथ ही अन्य प्रकार के खाद्य तेल की कीमतों में कमी आई है. जो की आम आदमी के लिए राहत भरी खबर है. आइए जानते है कि इस समय खुदरा बाजारों में खाद्य तेल की क्या कीमत है.

 

सरसों तेल की कीमतों में बदलाव

Today Mustard Oil Price : सरसों का तेल हुआ सस्ता, जानिए अब क्या है 1 लीटर तेल की कीमत

पिछले 6, 7 महीनों से लगातार खाद्य तेलो की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी देखने को मिल रही थी. जो सरसों का तेल कुछ दिनों पहले 190 से 120 रुपये लीटर बिक रहा है. 6 दिसंबर सोमवार को उसकी कीमतों में बदलाव हुआ है. इस समय खुदरा बाजारों में 1 लीटर सरसों तेल की कीमत 170 से लेकर 175 रुपये के करीब बिक रहा है. वहीं, हाल रिफाइंड तेल का भी है. उसके दामों में भी कमी आई है. इस समय खुदरा बाजारों में 1 लीटर रिफाइंड का दाम 170 से 175 रुपये के बीच बिक रहा है.

सस्ता हुआ सरसों का तेल

Today Mustard Oil Price : सरसों का तेल हुआ सस्ता, जानिए अब क्या है 1 लीटर तेल की कीमत
वहीं, उत्तर प्रदेश की बात करे तो इस समय उत्तर प्रदेश के अंधिकाश जगहों पर 180 रूपये लीटर बिक रहा है. जो कुछ दिनों पहले 190 से लेकर 210 रुपये प्रति लीटर के हिसाब से बिक रहा था. वहीं, बरेली की बात करे तो यहां पर पूरे यूपी में सरसों का तेल सबसे सस्ता बिक रहा है. बरेली में 1 लीटर सरसों तेल की कीमत (Mustard Oil Price) इस समय 168 रुपये है. इस हिसाब से सरसों तेल के हर टीन पर 50 से 60 रुपये की गिरावट आई है.

मंडियों में सरसों का भाव

Today Mustard Oil Price : सरसों का तेल हुआ सस्ता, जानिए अब क्या है 1 लीटर तेल की कीमत
थोक मंडी के व्यापारियों का कहना है कि पिछले सप्ताह मंडियों में सरसों के दाने का भाव में150 रुपये की गिरावट दर्ज की गई. इसके साथ ही सरसों के दाने का भाव 8,920-8,950 रुपये प्रति क्विंटल रहा. इस गिरावट के साथ ही सरसों के पक्की घानी और क्च्ची घानी के तेल की कीमतों में 40 से 45 रुपये की गिरावट देखने को मिली है. उनका कहना है कि इस बार तिलहन का पैदावार काफी अच्छा हुआ है. ऐसे में आने वाले दिनों में सरसों तेल के कीमत में और कमी की उम्मीद की जा सकती है. बता दें कि रिपोर्ट के अनुसार, देश में अभी सरसों का 10-12 लाख टन का स्टॉक मौजूद है.