Mayank Agarwal

आईपीएल 2022 का 23वां मुकाबला पांच बार की विनर टीम मुंबई इंडियंस और मयंक अग्रवाल की पंजाब किंग्स के बीच (MIvsPBKS) महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में खेला गया। जहां मैच में मुंबई टीम ने टॉस जीतकर गेंदबाजी करने का फैसला किया। वहीं पहले बल्लेबाजी करने उतरी पंजाब किंग्स ने Mayank Agarwal और शिखर धवन की शानदार पारी के बदौलत 198 रन बनाकर मुंबई को 199 रनों का टारगेट दिया। वहीं लक्ष्य का पीछा करने आई मुंबई इंडियंस ने 186 रन पर ही ढेर हो गई। और 12 रनों से ये रोमांचक मैच पंजाब किंग्स ने जीत लिया। वहीं मैच के बाद पंजाब टीम के कप्तान Mayank Agarwal काफी खुश नजर आए, इसके साथ ही उन्होंने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की। आइये बताते है मयंक ने क्या कहा?

मैच में मिली जीत के बाद क्या बोले Mayank Agarwal ?

Mayank Agarwal

दरअसल आईपीएल के 23वें मुकाबले में पंजाब किंग्स के कप्तान मयंक अग्रवाल और मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा आमने-सामने नजर आए। दोनों टीमों के बीच ये मुकाबला काफी रोमांचक और कांटेदार देखा गया। जहां पंजाब किंग्स ने मुंबई इंडियंस को 23 रनों से हराकर जीत का परचम लहराया। वहीं मैच के बाद हुई प्रेजेंटेशन के दौरान पंजाब टीम के कप्तान Mayank Agarwal काफी खुश नजर आए। उन्होंने कहा,

“यह एक अच्छी रात थी, टीम की जीत में योगदान देकर बहुत खुशी हुई। हमारे लिए महत्वपूर्ण चीज दो बिंदु थे। हम सिर्फ यह नहीं कह सकते कि यह बोर्ड पर रन था, इस खेल में बहुत सारे उतार-चढ़ाव थे। बहुत सारे महत्वपूर्ण क्षण थे और अधिक बार नहीं, हम उन क्षणों को जीत रहे थे और जीत रहे थे।”

“जब मैच 50-50 का था तो हमने उन लम्हों को जीत लिया और वो हमारी तरफ आ गया। यह अकेले बल्लेबाजी नहीं कर रहा था, यह खेल में पीरियड्स था। यही वह क्रिकेट है जिसे हम खेलना चाहते हैं, हम आक्रामक, कठिन क्रिकेट खेलना चाहते हैं। इसके साथ ही हमें अच्छी मानसिकता दिखानी होगी। हम भी बहुत होशियार थे।”

Mayank Agarwal ने खेली कप्तानी पारी

Mayank Agarwal

दरअसल, मुंबई इंडियंस के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करने उतरी PBKS की शुरुआत बेहद शानदार रही। टीम के कप्तान और बल्लेबाज मयंक अग्रवाल ने सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के साथ पहले विकेट के लिए 97 रनों की साझेदारी की। पिछले तीन मुकाबलों में अपने बल्ले से कमाल दिखाने में नाकाम रहे मयंक अग्रवाल  ने इस मुकाबले में अपनी ताबतोड़ पारी से ट्रोलर्स को कुछ बोलने का मौका नहीं दिया। उन्होंने टीम के लिए कप्तानी पारी खेलते हुए 32 गेंदों में 52 रन बनाए। हालांकि, वे अगले ही ओवर में मुरगुन अश्विन की गेंद पर कैच आउट हो गए।