विकास दुबे के गैंग को मिला नया लीडर, जानिए कौन है?

शुक्रवार को चौबेपुर थाने में 30 आरोपितों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में एफआईआर दर्ज की है। गैंगस्टर एक्ट की धारा में जेल गई आरोपित महिलाओं को शामिल नहीं किया गया है। इस गैंग में हीरू दुबे को गैंग लीडर बनाया गया है। अब विकास दुबे का गैंग हीरू के नाम से जाना जाएगा।

हीरू दुबे को बनाया गया लीडर

विकास दुबे के गैंग को मिला नया लीडर, जानिए कौन है?

पुलिस ने बिकरू कांड के बाद इस मामले में 6 एनकाउंटर किए। जिसमें विकास दुबे समेत उसके गुर्गे मारे गए। इसी के साथ पुलिस ने 36 आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेजा। गैंगस्टर एक्ट के तहत उसके बाद पुलिस इस गिरोह पर कार्रवाई करने की लिखापढ़ी कर रही थी। पुलिस को बीते कई दिनों से गैंग लीडर की तलाश थी लेकिन पुलिस आरोपितों में लीडर को तय नहीं कर पा रही थी। शुरुआत में गुड्डन त्रिवेदी और जिलेदार के बीच पुलिस ने लीडर चुनने का मन बनाया मगर बाद में हीरू दुबे को लीडर बना दिया गया।

दिमाग से ही आपराधिक किस्म का

विकास दुबे के गैंग को मिला नया लीडर, जानिए कौन है?

एसपी ग्रामीण ने कहा कि हीरू दुबे, अमर दुबे और प्रभात मिश्रा जितना ही खतरनाक है। एसपी ने बताया कि अबतक उसके खिलाफ एक दर्जन मामलों की जानकारी मिली है। आसपास के जिलों से भी उसका क्राइम रिकार्ड निकलवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हीरू दिमाग से ही आपराधिक किस्म का है। अपराध करने में उसे मजा आता है। वह स्थितियों को भांपकर अपने अपराध करने के तरीकों में बदलाव करता रहता है।

हीरू दुबे का गिरोह

विकास दुबे के गैंग को मिला नया लीडर, जानिए कौन है?

रामू बाजपेई, श्यामू बाजपेई, छोटू शुक्ला उर्फ अखिलेश, राहुल पाल, जहान सिंह, दयाशंकर अग्निहोत्री, शशिकांत उर्फ सोनू पाण्डेय, शिवम दुबे उर्फ दलाल, मनीष, धीरज उर्फ धीरू, रमेश चन्द्र, गोविंद सैनी, नन्हू यादव, बल्लू मुसलमान, राजेन्द्र कुमार, सोनू उर्फ सुशील तिवारी, अखिलेश दीक्षित, जयकांत बाजपेई और प्रशांत शुक्ला। गोपाल सैनी, उमाकांत उर्फ गुड्डन उर्फ बउआ, शिवम दुबे, बाल गोविंद, संजय दुबे, सुरेश वर्मा, अरविन्द त्रिवेदी, शिव तिवारी उर्फ आशुतोष, विष्णु पाल उर्फ जिलेदार, राम सिंह यादव,

ये भी पढ़े:

विकास दुबे को पकड़वाना मंदिर के पुजारी के लिए बना मुसीबत, बताई व्यथा |

विकास दुबे की एक और दरिंदगी आई सामने, फिल्मों के विलेन से नहीं था कम |

बिकरू में घूम रहा विकास दुबे का भूत, गाँव वालों ने किया कई खुलासे |

कानपुर एनकाउंटर: विकास दुबे ने परिवार को फायदा पहुँचाने के लिए किया था ये काम |

 

Supriya Singh

My name is supriya .i am from ballia. I have done my mass communication from govt. polytechnic lucknow.in my family, there are 5 members including me.My mother house maker.my strengths are self confidence,willing...

Leave a comment

Your email address will not be published.